Monday , December 18 2017

मास्टरमाइंड लखवी को मिली जमानत

इस्लामाबाद हाई कोर्ट ने जुमे के रोज़ मुंबई हमले के मुख्य साजिशकार जकिर उर रहमान लखवी की हिरासत को गैरकानूनी करार देते हुए उसकी फौरन रिहाई के हुक्म दिए हैं। अखबार 'डॉन' की वेबसाइट की रिपोर्ट के मुतबैक, जस्टिस नूरुल हक ने लखवी की दरखा

इस्लामाबाद हाई कोर्ट ने जुमे के रोज़ मुंबई हमले के मुख्य साजिशकार जकिर उर रहमान लखवी की हिरासत को गैरकानूनी करार देते हुए उसकी फौरन रिहाई के हुक्म दिए हैं। अखबार ‘डॉन’ की वेबसाइट की रिपोर्ट के मुतबैक, जस्टिस नूरुल हक ने लखवी की दरखास्त कुबूल करते हुए यह हुक्म दिया। लखवी ने उसे हिरासत में लिए जाने के लिए दिए गए तीन मर्तबा के हुक्म को चैलेंज दिये थे ।

लखवी समेत दिगर छह मुश्तबा फरवरी 2009 से हिरासत में हैं। उस पर नवंबर 2008 में मुंबई हमले की साजिश करने का इल्ज़ाम है, जिसमें 166 लोगों की जान चली गई थी।

हुकूमत ए पाकिस्तान ने फरवरी 2009 में लखवी और दिगर छह मुश्तबा को इस मामले में हिरासत में लिया था। 2009 में लखवी और दिगर छह के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई थी।

लखवी को पाकिस्तान के पेशावर शहर में फौज के एक स्कूल पर 16 दिसंबर को हुए हमले के दो बाद ही जमानत मिल गई थी, जिस पर हिंदुस्तान और दिगर मुल्कों ने एहतिजाज जताया था।

इस्लामाबाद हाई कोर्ट ने 29 दिसंबर को उसे हिरासत में लेने के हुक्म को रद्द कर दिया था, लेकिन सुप्रीमकोर्ट ने सात जनवरी के अपने फैसले में लखवी के हिरासत को बरकरार रखने का हुक्म दिया था।

TOPPOPULARRECENT