Monday , January 22 2018

मिस्र में बेरोज़गार मीज़ाईल फ़रोख़त करते हैं

मिस्र के इलाक़े मग़रिबी(युराप ) डेल्टा के महिकमा इन्सिदाद-ए-मनश्शियात के हुक्काम(लोग ) ने बड़ी तादाद में असलाह जिन में ज़मीन से ज़मीन तक मार करने वाले टैंक शिकन 101 मिज़ाईल, लॉंचिंग पेड, तीन ख़ुदकार बंदूक़ें, मुख़्तलिफ़ इक़साम (दुसरे चीज़)के ब

मिस्र के इलाक़े मग़रिबी(युराप ) डेल्टा के महिकमा इन्सिदाद-ए-मनश्शियात के हुक्काम(लोग ) ने बड़ी तादाद में असलाह जिन में ज़मीन से ज़मीन तक मार करने वाले टैंक शिकन 101 मिज़ाईल, लॉंचिंग पेड, तीन ख़ुदकार बंदूक़ें, मुख़्तलिफ़ इक़साम (दुसरे चीज़)के बारह हज़ार राउंडज़ क़बज़े में लिए हैं।

ये असलाह बहीरा के अलदलनजात शहर से ताल्लुक़ रखने वाले तीन मिस्रियों के हाँ(पास ) से बरामद हुवा है जिन के बारे में पता चला है के वो बेरोज़गार थे। मिस्र के मकर अरब रोज़नामे अलाहराम के मुताबिक़ आम शहरीयों से इतनी बड़ी मिक़दार में इस्लाह(चीज़ ) की बरामदगी(निकलना) की पूरी तरह छानबीन केलिए एक कमेटी बना दी गई है जिन में जनरल मुस्तफ़ा बदर, सामा अलगीलानी, ब्रीगेडीयर मुहम्मद अब्बास, ज़करीया अलग़मरी, तारिक़ ग़ाज़ी और मजदी अलसमरी शामिल हैं।

अख़बार के मुताबिक़ जिन शहरीयों के पास से ये इसलाह(चीज़ ) बरामद (निकलना) हुवा है, सैक्योरिटी इदारों ने उन की सरगर्मीयों पर बहुत पहले से नज़र रखी हुई थी। इन अफ़राद (लोग) को इस वक़्त गिरफ़्तार किया गया के जब ये इसलाह एक जगह से दूसरी जगह मुंतक़िल( तब्दील) करने के लिए दो गाड़ीयों का इंतिज़ाम कर रहे थे क्योंकि वो इस इसलेह(चीज़) को पहले किसी महफ़ूज़ जगह छुपाना चाहते थे ता के बाद में इस के गाहक(करीदनेवले ) तलाश किए जा सकें।

पुलिस को देखते ही मशकूक(शक) अफ़राद( लोग) ने फ़रार(भागना) होने की कोशिश की लेकिन मुकम्मल (पूरी)तैय्यारी के साथ ऑप्रेशन करनेवाली पुलिस और ऐन्टी नार का टॅक्स फ़ोर्स ने मुल्ज़िमों के राह फ़रार होने की कोशिश नाकाम बना दी।

गिरफ़्तारी के बाद इबतिदाई तफ़तीश(पुच ताच) के दौरान मुल्ज़िमों ने अपने पास ममनूआ( गर खानूनी) इसलाह( चीज़) की मौजूदगी का एतराफ़( कुबूल) करते हुए कहा के वो उसे फ़रोख़त( बेचना ) कर के अपनी बेरोज़गारी दूर करना चाहते थे।

बाक़ौल मुल्ज़िमान, ये इसलाह बैरून-ए-मुल्क से मिस्र फ़रोख़त (बेचना)की ख़ातिर लाया गया था। मुल्ज़िमों के ख़िलाफ़ मुक़द्दमा दर्ज कर के मज़ीद(जियादा) तफ़तीश के लिए मिल्ट्री प्रासीक्यूटर के हवाले कर दिया गया है। हाल ही में मिस्र में अवाम ने हुसना मुबारक हुकूमत का तख़्ता उलट दिया था और तहरीर उसको आवर चौक पर इन्क़िलाब बरपा करते हुए एक तारीख़ी कारनामा अंजाम दिया था ।

TOPPOPULARRECENT