Sunday , December 17 2017

मुंबई: गरीबी से तंग आकर मां ने 6 महीने के बेटे को मौत के घाट उतार दिया

मुंबई। पति की मौत के बाद अपने 6 महीने के बेटे की परवरिश का खर्च उठा पाने में नाकाम रहने पर 25 साल की एक महिला ने अपने ही बेटे की गला दबाकर हत्या कर दी। 6 महीने के बेटे को मारने के बाद महिला उसके बीमार होने की बात कहते हुए उसे लेकर शताब्दी अस्पताल पहुंची। सवित्रा दुरनाले का अपराध तब सामने आया जब उसके 6 महीने के बेटे देवराज की जांच के दौरान डॉक्टरों ने उसे पहले से मरा हुआ पाया। डॉक्टरों ने कहा कि बच्चे की मौत स्वाभाविक नहीं है। आगे की जांच में डॉक्टरों ने बच्चे के गले पर दम घोंटने के निशान देखे और पुलिस को खबर दी।

डेप्युटी कमिश्नर उमाप शाहजी ने बताया, ‘डॉक्टरों की रिपोर्ट देखने के बाद हमने बच्चे की मां से पूछताछ की। शुरुआत में वह झूठी कहानी सुना रही थी कि उसका बेटा पिछले 2 दिन से बीमार था, लेकिन पूछताछ जारी रखने पर आखिरकार उसने बच्चे का गला दबाकर उसे मारने की बात कबूल ली। महिला ने कहा कि वह परवरिश का खर्च नहीं उठा पा रही थी।’ महिला पर हत्या का केस दर्ज कर उसे पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। सवित्रा गुलबर्गा की रहने वाली है। 4 साल पहले उसकी शादी हुई थी और उसका पति पेशे से दिहाड़ी मजदूर था। सवित्रा ने पुलिस को बताया कि पति की मौत के बाद देवराज की तबीयत खराब रहने लगी। उसने बताया कि पति के मरने के बाद उसके पास रहने की भी जगह नहीं थी।

TOPPOPULARRECENT