Monday , December 11 2017

मुंबई धमाकों के मुल्ज़िम ताहिर मरचैंट एन आई ए की तहवील में

1993 मुंबई धमाकों के मुक़द्दमे के एक मुल्ज़िम ताहिर मरचैंट को पूछ ताछ‌ के लिए 16 नवंबर तक क़ौमी तहक़ीक़ाती एजैंसी (एन आई ए) की तहवील में दे दिया है।

1993 मुंबई धमाकों के मुक़द्दमे के एक मुल्ज़िम ताहिर मरचैंट को पूछ ताछ‌ के लिए 16 नवंबर तक क़ौमी तहक़ीक़ाती एजैंसी (एन आई ए) की तहवील में दे दिया है।

ताहिर मरचैंट के ख़िलाफ़ केरला में 2008 से हिंदूस्तानी जाली करंसी नोटों का एक मुक़द्दमा भी ज़ेर दौरां है। ताहिर मरचैंट को मुंबई से आज सुबह 4 बजकर 30 मिनट पर ज़रिये ट्रेन कूची लाया गया।

इस मौक़े पर सख़्त तरीन सेक्युरिटी इन्तेज़ामात किये गये थे और यहां एक अदालत में पेश किया गया जहां एन आई ए मुक़द्दमात पर समाअत जारी है।

ख़ुसूसी जज एस विजए कुमार के बैठक‌ पर ताहिर मरचैंट को पेश किया गया, जहां पर मुक़ामी पुलिस के अलावा मुंबई पुलिस की एक टीम भी ताय्युनात थी।

अलावा अज़ीं अदालत के अहाते में पुलिस डाग इसक्वाड के अलावा बमों को नाकारा बनाने वाला इसक्वाड भी ताय्युन किया गया था।

क़ब्ल अज़ीं एन आई ए ने जाली करंसी के मुक़द्दमे में पूछगिछ केलिए ताहिर को अपनी तहवील में लेने की ख़ाहिश की थी। ताहिर के ख़िलाफ़ इस साल 29 सितंबर को वारंट जारी किया गया था और मुंबई की आर्थर रोड जेल के सुप्रिटेंडेंट‌ को हिदायत की गई थी कि 9 नवंबर को उन्हें अदालत में पेश किया जाये।

ताहिर को जून में सी बी आई ने गिरफ़्तार किया था और मुंबई बम धमाकों के मुक़द्दमे में वो फ़िलहाल जेल में है। ताहिर इस मुक़द्दमे का चौथा मुल्ज़िम है जो समझा जाता है कि दाऊद इबराहीम और टाइगर मैमन का इंतिहाई क़रीबी साथी है और शारजा में एक शिपिंग कंपनी में बहैसीयत मैनेजर काम कररहा था, जिस को जून 2010 में अबूज़हबी से मुल्क बदर किए जाने के बाद मुंबई एर पोर्ट पर सी बी आई ने गिरफ़्तार किया था।

एन आई ए के मुताबिक़ ताहिर के इन्किशाफ़ात और फ़राहम करदा मालूमात से पता चला है के जाली करंसी का ज़रीया दाऊद भाई था जो एक पाकिस्तानी शहरी है।

रेविन्यू इंटयलिजन‌ डाइरकटरेट् ने 16 अगस्त 2008 को ताहिर के क़बज़े से 1000 और 500 के करंसी नोटों पर मुश्तमिल मजमूई तौर पर 72.5 लाख रुपय की रक़म ज़ब्त की थी, जो रास अलख़ीमा से कोज़ी कोड एर पोर्ट पहुंचने वाले मुहम्मद इल्ल शाह के क़बज़े से बरामद हुए थे।

इस के तीन साथीयों को भी गिरफ़्तार करलिया गया था जो एर पोर्ट पर उसे लेने आए थे।

TOPPOPULARRECENT