Wednesday , November 22 2017
Home / Featured News / मुंबई नगर निगम के ठेका मजदूरों ने की कन्हैया का जुर्माना अदा करने की पेशकश

मुंबई नगर निगम के ठेका मजदूरों ने की कन्हैया का जुर्माना अदा करने की पेशकश

जेएनयू छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने आज कहा कि 9 फ़रवरी की घटना के संबंध में विश्वविद्यालय ने जो उनपर जुरमाना लगाया है मुंबई नगर निगम के ठेका मजदूरों द्वारा स्वेच्छा से उसका भुगतान किये जाने की पेशकश विश्विद्यालय प्रशासन के लिए एक तमांचे की तरह हैं |Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

उन्होंने ट्वीट्स की एक श्रृंखला में कहा कि “मुंबई नगर निगम एचवी के ठेका मजदूरों ने मेरे जुर्माने के भुगतान के लिए 10 हज़ार रूपये इकट्ठा किये हैं । लेकिन हम इसका भुगतान नहीं करेंगे और जेएनयू HLEC की इस अनुचित कार्यवाई के ख़िलाफ़ लड़ेंगे और हमारी एकजुटता लंबे समय तक बनी रहेगी | छात्र मज़दूर किसान एकता जिंदाबाद !

29 वर्षीय रिसर्च स्कालर , जो 9 फ़रवरी की घटना में शामिल होने के लिए जेएनयू द्वारा दी गयी सजा के विरोध में अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल करने वाले लोगों में शामिल हैं , वो आज पटना में छात्रों की बैठक में आये थे |

इसी दौरान वह बेगूसराय में अपने परिवार से भी मिले पटना यात्रा के बाद उनकी केरल जाने की योजना है जहाँ वह वह अपने साथी जेएनयू छात्र जो 16 मई के चुनावों के लिए चुनाव मैदान में है, का चुनाव प्रचार करेंगे |

उमर खालिद और अनिर्बान भट्टाचार्य के साथ कन्हैया को यूनिवर्सिटी कैम्पस में संसद पर हमले के दोषी अफजल गुरु की बरसी मनाये जाने के दौरान कथित तौर पर राष्ट्र विरोधी नारे लगाने के लिए गिरफ़्तार किया गया था लेकिन अब वे ज़मानत पर बाहर हैं |

एक विश्वविद्यालय जांच समिति की सिफारिशों के आधार पर, जेएनयू प्रशासन ने इस घटना के संबंध में कई छात्रों के खिलाफ सजा की घोषणा की है |

कन्हैया को “अनुशासनहीनता और दुराचार” के आधार पर 10,000 रुपये का जुर्माना लगाया गया है, वहीं उमर, अनिर्बान और कश्मीरी छात्र मुजीब गैटो को अलग-अलग सज़ा के आधार पर यूनिवर्सिटी से निष्कासित किया है |14 छात्रों पर जुरमाना लगाया गया है। जबकि दो छात्रों की छात्रावास सुविधा को वापस ले लिया गया है और विश्वविद्यालय के दो पूर्व छात्रों के लिए विश्वविद्यालय की सीमा से बाहर रहने के लिए कहा गया है |

9 फ़रवरी की घटना के शिकायतकर्ता अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के सदस्य सौरभ शर्मा पर भी 10,000 का जुरमाना लगाया गया है |

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के 5 सदस्यों सहित 25 छात्र सजा के विरोध में गुरुवार से अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठे हैं।

बॉलीवुड निर्देशक विवेक अग्निहोत्री, जिनका दावा है कि उनकी फिल्म ‘बुद्ध एक ट्रैफिक जाम में’ जेएनयू में चल रहे विवाद के समान है, ने भी सौरभ का जुर्माना अदा करने की पेशकश की |

TOPPOPULARRECENT