Sunday , September 23 2018

मुंबई में प्रीति राठी की तेजाब फेंक कर हत्या करने के मामले में पडोसी अंकुर पवार दोषी करार

साल 2013 दिल्ली से मुंबई भारतीय नेवी हॉस्पिटल में नर्स बनने के लिए पहुंची प्रीति राठी के चेहरे पर तेज़ाब फेंककर हत्या कर देने के मामले में उनके पड़ोसी अंकुर पंवार को कोर्ट ने दोषी करार दिया है। जिसकी सजा अदालत कल सुनाएगी। मामला यूं था कि प्रीति राठी अपने पिता के साथ जब मुंबई रेलवे स्टेशन पहुंची तो वहीँ पर ही उसके कंधे पर किसी ने हाथ रखकर छूया और जैसे ही वह पलटी, पीछे खड़े शख्स ने उसके चेहरे पर तेज़ाब फेंका और भाग गया। अंकुर पंवार को वारदात के लगभग एक साल बाद गिरफ्तार किया गया था। अंकुर से पूछताछ करने के बाद पुलिस का कहना है कि अंकुर प्रीति का चेहरा बिगाड़ देना चाहता था, ताकि उसे कहीं भी नौकरी न मिल पाए क्योंकि उसके परिवारवाले उसे बेरोज़गार होने के ताने देते वक्त प्रीति की कामयाबी के बारे में कहते रहते थे और वह इस बात से बहुत दुखी था।

Facebook पर हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करें

TOPPOPULARRECENT