Sunday , May 27 2018

मुंबई में मोनोरेल शुरू

कई साल की ताख़ीर और कई रुकावटों को ख़त्म करते हुए मुल्क की पहली मोनो रेल ने बिल आख़िर अपना सफ़र शुरू कर दिया। चीफ़ मिनिस्टर महाराष्ट्र पृथ्वी राज चौ्व्हान ने मुंबई में इस सरविस का इफ़्तिताह अंजाम दिया।

कई साल की ताख़ीर और कई रुकावटों को ख़त्म करते हुए मुल्क की पहली मोनो रेल ने बिल आख़िर अपना सफ़र शुरू कर दिया। चीफ़ मिनिस्टर महाराष्ट्र पृथ्वी राज चौ्व्हान ने मुंबई में इस सरविस का इफ़्तिताह अंजाम दिया।

सीएम ने सरविस का इफ़्तिताह अंजाम देने के बाद कहा कि पहले मरहले में इस रेल से 8.9 कीलोमीटर का सफ़र होगा, जिस के ज़रिये वडाला – चेंबूर स्टेशनों के बीच ये सरविस होगी उस की बाज़ाबता ख़िदमात इतवार की सुबह 7 बजे से शुरू होजाएंगी। उन्हों ने कहा कि दूसरे मरहला की तकमील के लिए मज़ीद एक साल का वक़्त दरकार होगा।

चौहान ने कहा कि 1,900 करोड़ रुपये के ख़र्च से इस सेक्शन की तकमील हुई है और इमकान है कि एक माह में इस से दो लाख मुसाफ़िर यन इस्तिफ़ादा करेंगे, जो मुंबई में रिवायती ट्रेन नेटवर्क का मुतबादिल साबित हो सकती है। जुमला तीन हज़ार करोड़ रुपये मालियती इस प्राजेक्ट को दो मराहिल में लागू किया जा रहा है।

दूसरे मरहले में इन ख़िदमात को जुनूबी मुंबई में संत गाडगे महाराज चौक तक तौसीअ दी जाएगी। मुंबई मेट्रो पोलीटिन रीजन डेवलपमेेन्ट अथॉरीटी मोनो रेल को चलाने की ज़िम्मेदार है और इसने इस का किराया पाँच और ग्यारह रुपये के दरमियान तय किया है। इब्तिदा में इस रेल में चार कोच होंगे और बयकवक़त 570 मुसाफ़िरीन को सफ़र की सहूलत फ़राहम की जा सकती है। हर पंद्रह मिनट में एक सरविस चलाई जाएगी। मुताल्लिक़ा अथॉरीटी मुस्तक़बिल में इस ट्रेन में मज़ीद दो कोच का इज़ाफ़ा करते हुए उसे छः करना चाहती है और इस के दौरानिया को भी 9 मिनट फ़ी सरविस किया जाएगा। मज़ीद तेज़ी की सूरत में ये दौरानिया हर चार मिनट में एक सरविस का भी किया जा सकता है।

TOPPOPULARRECENT