Sunday , December 17 2017

मुकुल संगमा के वज़ीरे आला बनने की राह हमवार

शीलांग, 02 मार्च: मुकुल संगमा को कांग्रेस लीजसलीचर पार्टी का एक बार फिर क़ाइद मुंतख़ब किया गया और अब वो अनक़रीब रियासत के 23 वीं वज़ीरे आला होंगे। कांग्रेस ने 29 नशिस्तों पर कामयाबी हासिल की जो वाज़िह अक्सरियत से सिर्फ़ दो नशिस्तें कम है,

शीलांग, 02 मार्च: मुकुल संगमा को कांग्रेस लीजसलीचर पार्टी का एक बार फिर क़ाइद मुंतख़ब किया गया और अब वो अनक़रीब रियासत के 23 वीं वज़ीरे आला होंगे। कांग्रेस ने 29 नशिस्तों पर कामयाबी हासिल की जो वाज़िह अक्सरियत से सिर्फ़ दो नशिस्तें कम है, नेकल शहर के एक होटल में सी एल पी का अपना पहला इजलास मुनाक़िद किया था, जिस की सदारत मेघालय के कांग्रेस सरबराह और साबिक़ वज़ीरे आला डी डी लपाइंग ने की थी।

उन्होंने कहा कि मुकुल संगमा को इत्तिफ़ाक़ राय से सी एल पी का क़ाइद मुंतख़ब किया गया है, और कांग्रेस हाईकमान ने भी उस की तौसीक़ की है। मुकुल संगमा ने हालाँकि सदर जमहूरिया के इंतिख़ाब में हिस्सा लिया था, लेकिन जैसा कि तवक़्क़ो थी उन्हें परनब मुकर्जी के मुक़ाबले शिकस्त फ़ाश का सामना करना पड़ा था। उन्होंने बहैसियत स्पीकर लोक सभा अपने फ़राइज़ की अंजाम दही में कभी कोताही नहीं की, और उन की कारकर्दगी को आज भी याद किया जाता है।

TOPPOPULARRECENT