Thursday , December 14 2017

मुख़ालिफ़ अवाम पालिसीयों के ख़िलाफ़ 22 जून को जेल भरो प्रोग्राम

क़ौमी बी जे पी ने मुल्क में पेश आने वाले मुतअद्दिद स्काम्स , गै़र क़ानूनी मुआमलतों-ओ-बे क़ाईदगियों वग़ैरा के लिए कांग्रेस ज़ेर-ए-क़ियादत यू पी ए हुकूमत को ज़िम्मेदार ठहराया और कहा कि ख़ुद वज़ीर-ए-आज़म (प्रधान मंत्री) डाक्टर मनमोह

क़ौमी बी जे पी ने मुल्क में पेश आने वाले मुतअद्दिद स्काम्स , गै़र क़ानूनी मुआमलतों-ओ-बे क़ाईदगियों वग़ैरा के लिए कांग्रेस ज़ेर-ए-क़ियादत यू पी ए हुकूमत को ज़िम्मेदार ठहराया और कहा कि ख़ुद वज़ीर-ए-आज़म (प्रधान मंत्री) डाक्टर मनमोहन सिंह भी इन तमाम वाक़ियात के लिए बराबर के ज़िम्मेदार हैं जबकि हक़ीक़त ये है कि डाक्टर मनमोहन सिंह वज़ीर-ए-आज़म (प्रधान मंत्री)हिंद एक मुमताज़-ओ-माहिर मआशियात(एक्नामिस्ट) ज़रूर हैं लेकिन उन की (मनमोहन सिंह की) वजह से ही मुल़्क की मईशत(एक्नामी) को ज़बरदस्त नुक़्सान पहोँचा है।

इलावा अज़ीं(इसके इलावा) डाक्टर मनमोहन सिंह की ज़ेर-ए-क़ियादत मर्कज़ी यू पी ए हुकूमत की मुख़ालिफ़ अवाम और ग़लत पालिसीयों के नतीजा में आज महंगाई बढ़ चुकी है। अश्या-ए-ज़रुरीया (जरूरी चिजों)की क़ीमतों बशमोल पैट्रोल वग़ैरा की क़ीमतों में भी ज़बरदस्त इज़ाफ़ा हुआ है। बी जे पी ने इन मुख़ालिफ़ अवाम पालिसीयों के ख़िलाफ़ सख़्त एहतिजाज मुनज़्ज़म करने और 22 जून को जेल भरो प्रोग्राम का ऐलान किया है।

आज यहां अपने दौरा हैदराबाद के मौक़ा पर रियास्ती बी जे पी ऑफ़िस में अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए मिस्टर शाहनवाज़ हुसैन साबिक़(पूर्व ) मर्कज़ी वज़ीर रुकन पार्लीमान-ओ-क़ौमी पार्टी तर्जुमान बी जे पी ने ये बात कही और बताया कि वज़ीर-ए-आज़म (प्रधान मंत्री)की ज़िम्मेदारी है कि वो मुल्क में पाए जाने वाले करप्शन का ख़ातमा करने के लिए मूसिर-ओ-मुसबत इक़दामात करे।

उन्हों ने अख़बारी नुमाइंदों के मुख़्तलिफ़ सवालात के जवाब देते हुए कहा कि बी जे पी आइन्दा होने वाले आम इंतिख़ाबात में अपनी कामयाबी पर नज़र रखी हुई है, ताहम उन्हों ने इस बात की पेश क़ियासी की है कि मुल्क में किसी भी वक़्त यानी साल 2012 या 2013-में दरमयानी मुद्दत इंतिख़ाबात मुनाक़िद होंगे, लिहाज़ा हमारी तवज्जा मुकम्मल तौर पर आइन्दा इंतिख़ाबात में कामयाबी पर लगी हुई है।

बी जे पी में अंदरूनी ख़लफ़िशार से मुताल्लिक़ पूछे गए सवाल का वाज़िह जवाब देने से गुरेज़ करते हुए सिर्फ इतना कहा कि बी जे पी में सब कुछ ठीक ठाक है। कोई गड़बड़ वाली बात नहीं है। इस सवाल पर कि आया इलाक़ा तेलंगाना के बेशतर अज़ला में अक़ल्लीयतें काफ़ी तादाद में पाए जाते हैं और वो बी जे पी को फ़िरका परस्त जमात तसव्वुर करते हैं जिस के बाइस ही मुस्लमान अलैहदा रियासत तेलंगाना की भी मुख़ालिफ़त कर सकते हैं जैसा कि मुस्लमानों की नुमाइंदा जमात कहलाई जाने वाली मजलिस पार्टी को अलैहदा रियासत तेलंगाना की मुख़ालिफ़ है।

जवाब देते हुए कहा कि गुज़श्ता 60 साल के दौरान कांग्रेस पार्टी ने बी जे पी को फिरका परस्त जमात होने का मुस्लमानों में ख़ौफ़ पैदा करके मुस्लमानों को अपना वोट बैंक बना रखा था, लेकिन आज मुस्लमानों में काफ़ी बेदारी पैदा हुई है जिस की वजह से बी जे पी और मुस्लमानों के माबैन किसी किस्म की दूरी नहीं पाई जाती है और अब कांग्रेस या किसी और जमातों का ये कार्ड चलने वाला नहीं है।

उन्हों ने मज़ीद कहा कि रियासत बिलख़सूस हैदराबाद में मजलिस पार्टी ने भी बी जे पी के नाम पर मुस्लमानों को ख़ौफ़ज़दा करते हुए वोट हासिल कर रही है। इलावा अज़ीं(इसके इलावा) मजलिस को अपनी तन्क़ीदों का निशाना बनाते हुए मिस्टर शाहनवाज़ हुसैन ने कहा कि मजलिस अपने सयासी मफ़ादात को पेशे नज़र रखते हुए फ़ैसले करती है तो बी जे पी अवामी मफ़ादात को पेशे नज़र रखते हुए अपने फ़ैसले करती है।

TOPPOPULARRECENT