मुख़्तसर मुद्दत में प्री मेडिकल टेस्ट अज़सर-ए-नौ मुनाक़िद करने से CBSE का इज़हार माज़रत

मुख़्तसर मुद्दत में प्री मेडिकल टेस्ट अज़सर-ए-नौ मुनाक़िद करने से CBSE का इज़हार माज़रत
नई दिल्ली: सी बी एस ई ने आज सुप्रीम कोर्ट को मतला किया है कि मंसूख़ शूदा ऑल इंडिया प्री मेडिकल टेस्ट 2015का इमतेहान सिर्फ़ 4 हफ़्तों में दुबारा मुनाक़िद करना मुम्किन नहीं है जैसा कि अदालत ने इस ख़ुसूस में हिदायत दी है। जस्टिस आर के अग्रवा

नई दिल्ली: सी बी एस ई ने आज सुप्रीम कोर्ट को मतला किया है कि मंसूख़ शूदा ऑल इंडिया प्री मेडिकल टेस्ट 2015का इमतेहान सिर्फ़ 4 हफ़्तों में दुबारा मुनाक़िद करना मुम्किन नहीं है जैसा कि अदालत ने इस ख़ुसूस में हिदायत दी है। जस्टिस आर के अग्रवाल और डीवीझ़न ने सेंटर्ल बोर्ड आफ़ सेकेंडरी एजुकेशन की दरख़ास्त नज़रेसानी पर समाअत का फ़ैसला किया है जिस में 15 जून को जारी करदा अदालत के इस हुक्म पर नज़रसानी की इस्तिदा की गई है कि अंदरून 4 हफ़्ते AIPMT-2015 को अज़सर-ए-नौ मुनाक़िद किया जाये।

बोर्ड की जानिब से सॉलिसीटर जनरल वनजीत कुमार ने मुख़्तसर वक़्त में इम्तेहान के दुबारा इनीक़ाद पर माज़रत का इज़हार किया और बताया कि बोर्ड पर पहले ही से बैयकवक़्त 7 इम्तेहानात मुनाक़िद करने का बोझ आइद है। लिहाज़ा अज़सर-ए‍नौ प्री मेडिकल टेस्ट मुनाक़िद करने केलिए कम अज़ कम 3 माह की मोहलत दी जाये। क़ब्लअज़ीं सुप्रीम कोर्ट ने 15 जून को AIPMT-2015 को मंसूख़ करते हुए अंदरून 4 हफ़्ता दुबारा ये इम्तेहान मुनाक़िद करने का हुक्म दिया था।

Top Stories