Thursday , December 14 2017

मुख्तलिफ ज़ात में शादी पड़ी महंगी

मुजफ्फरपुर 6 जून : तीन साल पहले दूसरी जाति की लड़की से शादी करना एक लड़के को महंगा पड़ गया। घरवालों के मारने पीटने के बाद चाचा-चाची समेत दीगर लोग उसे घर में नहीं रखना चाहते। एक हफ्ते पहले उसकी बीवी का मारपीट कर हाथ तोड़ दिया गया। उसक

मुजफ्फरपुर 6 जून : तीन साल पहले दूसरी जाति की लड़की से शादी करना एक लड़के को महंगा पड़ गया। घरवालों के मारने पीटने के बाद चाचा-चाची समेत दीगर लोग उसे घर में नहीं रखना चाहते। एक हफ्ते पहले उसकी बीवी का मारपीट कर हाथ तोड़ दिया गया। उसका सदर अस्पताल में आठ दिन से इलाज किया जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक, करजा डीह रिहायसी अर्जुन सहनी ने 2009 में पूनम देवी से मुख्तलिफ ज़ात में शादी की थी। शादी के बाद वह कुछ दिन तक घर से बाहर रहा। उसे एक बेटा और एक बेटी है। तीन साल बाद उसकी वाल्दा की मौत हो गयी। वाल्दा के मौत होने के बाद वह गांव में रहने लगा, तो उसके चाचा-चाची और दादा-दादी मुखालफत करने लगे।

अर्जुन का कहना है कि दूसरी जाति की लड़की से शादी करने की वजह उसे परेशान किया जा रहा है। 27 मई को उसकी बीवी के साथ मारपीट की गयी।

मारपीट में उसका हाथ टूट गया। वही अगले दिन से वह बीवी और बच्चों को लेकर सदर अस्पताल में है। चाचा-चाची गांव में नहीं रहने देना चाहते है। हालांकि पुलिस उसके बयान की बुन्याद पर सनाह दर्ज करने की तैयारी में है।

TOPPOPULARRECENT