मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यन का कार्यकाल एक साल के लिए बढ़ाया गया

मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यन का कार्यकाल एक साल के लिए बढ़ाया गया

नई दिल्ली। केंद्र सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यन को एक साल का सेवा विस्तार मिल गया है। सुब्रमण्यन का इस पद के लिए तीन साल का मौजूदा कार्यकाल अगले महीने 16 अक्तूबर को समाप्त होने वाला था।

अरविंद सुब्रमण्यन नरेंद्र मोदी सरकार से जुड़े अहम अर्थशास्त्रियों में शामिल हैं, जिनकी सरकार की आर्थिक नीतियां तय करने में अहम भूमिका है। सुब्रमण्यन के सेवा विस्तार के संबंध में वित्त मंत्रालय ने आज बयान जारी किया है।

सुब्रमण्यन नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद 16 अक्तूबर 2014 को देश के मुख्य आर्थिक सलाहकार बनाये गये थे। उस समय यह पद रघुराम राजन को रिजर्व बैंक का सितंबर 2013 में गवर्नर बनाये जाने के कारण रिक्त पड़ा था।

रघुराम राजन 10 अगस्त 2012 से चार सितंबर 2013 तक देश के मुख्य आर्थिक सलाहकार थे और उन्हें तत्कालीन प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह स्वदेश लेकर आये थे।

Top Stories