Sunday , September 23 2018

मुजफ्फरपुर में सकूली बच्चों पर बुलेरो चढ़ाने वाले बीजेपी के फरार नेता को नेपाल से किया गया गिरफ्तार, 9 बच्चों की हुई थी मौत

मुजफ्फरपुर में स्कूली बच्चों पर बोलरो चढ़ाने के मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी और बीजेपी नेता मनोज बैठा को गिरफ्तार कर लिया है। सीतामढ़ी पुलिस ने उसे नेपाल से सोमवार देर रात गिरफ्तार किया है।

इसी बीच बैठा को बीजेपी ने भी पार्टी से निलंबित कर दिया है। हालांकि इसकी अभी पुष्टि नहीं हो सकी है।

वहीं इससे पहले बिहार से डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने कहा था कि आरोपी मनोज बैठा किसी भी पार्टी का हो उस पर कार्रवाई होगी। अगर वह पाताल में भी होगा तो उसे खोज निकाला जाएगा।

इस पर बिहार में नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव ने उसे संरक्षण देने का आरोप लगाया। उन्‍होंने कहा कि मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्‍यमंत्री सुशील कुमार मोदी उसे बचा रहे हैं।

बताया जाता है कि दुर्घटना के वक्‍त बीजेपी नेता मनोज बैठा खुद गाड़ी चला रहा था। इसके बावजूद पुलिस उसे अब तक ढूंढ़ पाने में विफल रही है। इसके विरोध में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने विधानसभा से राजभवन तक पैदल मार्च किया और राज्यपाल सत्यपाल मलिक को ज्ञापन सौंपा।

तेजस्‍वी ने कहा, दिल्‍ली में ऐसी घटना पर सीबीआई जांच होती है, यहां कोई जांच नहीं तेजस्वी ने कहा कि दिल्ली में एक प्राइवेट स्कूल में हत्या होती है तो उसकी सीबीआई जांच होती है।

बिहार के सरकारी स्कूल के इतने बच्चों की हत्या हो गई कोई जांच नहीं। चूंकि भाजपा नेता तथा आरोपी मनोज बैठा शराब पिए हुए था। इसलिए उसे घटनास्थल से भगा दिया गया। इसकी जांच होनी चाहिए

नेता प्रतिपक्ष का आरोप, मुख्‍यमंत्री व उपमुख्‍यमंत्री में संवेदना नहीं
तेजस्वी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी पर संवेदनहीन होने का भी आरोप लगाया।

उन्‍होंने कहा कि इनमें इतनी भी संवेदना नहीं कि वे पीड़ित परिवार से मिलते। इतने बच्चों की मौत हो गई, लेकिन कोई देखने तक नहीं गया, जबकि पटना से मुजफ्फरपुर जाने में हेलीकॉप्‍टर से महज 15 मिनट लगते हैं।

शनिवार को सीतामढ़ी और मुजफ्फरपुर के एनएच 77 पर भीषण सड़क दुर्घटना हुई थी। इसमें 9 बच्चों की घटना स्थल पर ही मौत हो गई थी और तकरीबन दो दर्जन बच्‍चे घायल हो गए थे। बीजेपी नेता मनोज बैठा अपनी बोलेरो से सीतामढ़ी से मुजफ्फरपुर आ रहा था।

इस दौरान मुजफ्फरपुर के मीनापुर थाना क्षेत्र के धरमपुर गांव में उसने पहले एक महिला और पुरूष को टक्कर मारी, फिर भागने के क्रम में सड़क किनारे खड़े बच्चों को कुचल दिया। ये बच्चे अपने स्कूल से घर लौट रहे थे।

TOPPOPULARRECENT