मुझे नहीं लगता, मैंने हिन्दू से शादी कर कोई गलत किया है- नुसरत जहांन

मुझे नहीं लगता, मैंने हिन्दू से शादी कर कोई गलत किया है- नुसरत जहांन

बांग्ला अभिनेत्री से सांसद बनीं नुसरत जहां ने कहा कि जीवन में अगर मोहब्बत का पाठ नहीं सीखे तो कहीं के पंडित और कहीं के मौलाना नहीं, मोहब्बत का पाठ तो बहुत जरूरी है और यह सबको पढ़ना पड़ेगा।

नुसरत जहां ने रजत शर्मा के शो आप की अदालत में सवालों का जवाब देते हुए ये बातें कही। इस शो का प्रसारण इंडिया टीवी पर शनिवार (13 जुलाई) रात 10 बजे होगा। आप की अदालत के इस स्पेशल शो में नुसरत के साथ मिमी चक्रवर्ती ने भी रजत शर्मा के सवालों का जवाब दिया।

इंडिया टीवी के एडिटर इन चीफ रजत शर्मा ने जब नुसरत जहां से पूछा, ‘गले में मंगलसूत्र, मांग में सिंदूर तो उलेमा तो नाराज होंगें?’ इसके जवाब में नुसरत जहां ने कहा कि मुझे बिल्कुल भी नहीं लगा कि मैंने किसी और धर्म को सम्मान देकर कुछ गलत किया है।

आपको बता दें कि नुसरत जहां ने हाल में ही कोलकाता के बिजनेसमैन निखिल जैन के साथ तुर्की में शादी रचाई है। बशीरहाट से टीएमसी सांसद नुसरत जहां ने इस्कॉन की तरफ से आयोजित रथयात्रा में भी हिस्सा लिया था।

रजत शर्मा ने जब पूछा, ‘देवबंद के मौलवी कहते हैं कि ये एक्ट्रैस किसी की नहीं सुनती हैं, साथ उन्होंने कहा इनका लिबास और इनकी शादी गैर इस्लामिक है’। इसके जवाब में नुसरत जहां ने कहा, ‘लव हैज नो लैंग्वेज, पता ही नहीं समझ ही नहीं पा रहे लोग मैं कैसे समझाऊं। जब रजत शर्मा ने सवाल किया कि क्या मौलाना उलेमाओं को मोहब्बत का पाठ सीखना चाहिए? इसका जवाब देते हुए नुसरत जहां ने कहा कि मोहब्बत का पाठ तो बहुत जरूरी है और यह सबको पढ़ना पड़ेगा।

रजत शर्मा ने जब बरेली के उलेमा का जिक्र करते हुए सवाल किया, ‘बरेली मसलत के उलेमा हैं मुफ्ती मोहम्मद गुलाम रिजवी, उन्होंने कहा नुसरत ने मजहब इस्लाम के दायरों को पार कर लिया है इसलिए उनको इस्लाम से खारिज किया जाता है।’ इसके जवाब में नुसरत जहां ने कहा, ‘ मांग में सिंदूर और गले में मंगलसूत्र पहनने से मेरा ईमान नहीं डगमगाता है। ये मैं उनको कहना चाहती हूं.. लोग तो कहेंगे सर, वो कहते रहेंगे.. कुछ तो लोग कहेंगे, लोगों का काम है कहना।’

वहीं रजत शर्मा ने जब ममता बनर्जी को लेकर यह सवाल किया कि उनपर आरोप लगाता कि उन्होंने मुहर्रम के दिन ताजिए निकलवाए और इसलिए उन्होंने दु्र्गा पूजा पर रोक लगा दी थी। इसके जवाब में नुसरत जहां ने कहा, ‘वो मंदिर के लिए और बाकी पूजा के लिए वो कहां कहां मौजूद रहती हैं और रोज चंडी पूजा करके घर से निकलती हैं ये कोई क्यों नहीं देखता है?’

रजत शर्मा ने जब नुसरत से यह सवाल किया कि आप अपने पीक करियर पर राजनीति में आईं तो क्या आपके फैन इससे परेशान नहीं होंगे? नुसरत जहां ने कहा, अगर फैन्स हैं तो हरदम फैन रहेंगे। एक तो फैन हैं जो हमेशा रहेंगी.. ममता बनर्जी… हम फैन हैं उनके।

साभार- इंडिया टीवी न्यूज़ डॉट कॉम

Top Stories