Sunday , December 17 2017

मुझे शहीद का बाप कहलाने पर फ़ख़र है- मुजाहिद अली

पाकिस्तानी नौजवान एतेज़ाज़ हसन जिस ने अपने स्कूल में ख़ुदकुश हमला नाकाम बनाते हुए अपनी जान निछावर करदी, आज वो क़ौमी हीरो बन चुका है और आलमी सतह पर उस की जुर्रतमंदी की सताइश की जा रही है।

पाकिस्तानी नौजवान एतेज़ाज़ हसन जिस ने अपने स्कूल में ख़ुदकुश हमला नाकाम बनाते हुए अपनी जान निछावर करदी, आज वो क़ौमी हीरो बन चुका है और आलमी सतह पर उस की जुर्रतमंदी की सताइश की जा रही है।

जबकि शहीद एतेज़ाज़ हसन के वालिद मुजाहिद अली ने कहा कि एतेज़ाज़ हसन की शहादत के बाद हज़ारों अफ़राद ने उन से मुलाक़ात की और इज़हारे ताज़ियत किया लेकिन मैंने उन सब से ये कहा कि वो बजाय मुझ से हमदर्दी करने के मुझे एक शहीद का बाप कहलाने पर मुबारकबाद दें।

मुजाहिद अली के चेहरे पर रंजो अलम के कोई आसार नहीं पाए गए। ख़ैबर पख़्तून ख़ाह सूबा की हुकूमत ने 14 साला शहीद एतेज़ाज़ हसन को क़ौमी हीरो क़रार दिया है जिस ने अपने स्कूल में होने वाले ख़ुदकुश हमले को नाकाम कर दिया लेकिन ऐसा करने के लिए ख़ुद उसे जामे शहादत नोश करना पड़ा।

TOPPOPULARRECENT