Monday , December 11 2017

मुत्तहदा आंध्र की हिमायत में एन हरी कृष्णा मुस्ताफ़ी

रुकन राज्य सभा तेलुगूदेशम पार्टी एन हरी कृष्णा ने आज एवान पार्ल्यमंट में मुत्तहदा आंध्र की हिमायत करते हुए अपना स्तीफ़ा पेश करदिया जिसे सदर नशीन राज्य सभा हामिद अंसारी ने कुबूल करलिया।

रुकन राज्य सभा तेलुगूदेशम पार्टी एन हरी कृष्णा ने आज एवान पार्ल्यमंट में मुत्तहदा आंध्र की हिमायत करते हुए अपना स्तीफ़ा पेश करदिया जिसे सदर नशीन राज्य सभा हामिद अंसारी ने कुबूल करलिया।

इस तरह एन हरी कृष्णा मुत्तहदा रियासत की हिमायत में मुस्ताफ़ी होने वाले पहले रुकन राज्य सभा होगए। तेलुगूदेशम पार्टी के अरकान पार्लीमान एम वीनू गोपाल रेड्डी , एन शेवा प्रसाद , के नमला, सी एम रमेश , वाई सजना चौधरी ने भी अपनी पार्ल्यमंट की रकनीत से स्तीफ़ा पेश करदिया था लेकिन इन स्तीफ़ों पर ताहाल कोई फैसला नहीं किया गया।

आज राज्य सभा में मुत्तहदा रियासत के लिए जारी हंगामा आराई के दौरान एन हरी कृष्णा ने एक मर्तबा फिर अपना मकतूब स्तीफ़ा हवाला किया जिसे फ़ौरी तौर पर मंज़ूर करलिया गया।

बादअज़ां हरी कृष्णा ने ज़राए इबलाग़ के नुमाइंदों से बात चीत करते हुए बताया कि वो तेलुगू अवाम के इत्तिहाद के लिए अपने ओहदे से मुस्ताफ़ी होरहे हैं।

उन्होंने बताया कि बानी तेलुगूदेशम पार्टी और उनके वालिद आँजहानी एन टी रामा राव‌ ने अपनी पूरी ज़िंदगी के दौरान रियासत को मुत्तहिद रखने और तेलुगूअवाम के विक़ार को बुलंद रखने की कोशिश की थी इसी लिए वो भी अपने वालिद के नक़श-ए-क़दम पर चलते हुए तेलुगू अवाम के विक़ार को बुलंद रखने और रियासत को मुत्तहिद रखने के लिए अपने ओहदे से मुस्ताफ़ी होरहे हैं।

TOPPOPULARRECENT