मुत्तहदा रियासत का आख़िरी रचा बंडा , डी के अरूना का दावे

मुत्तहदा रियासत का आख़िरी रचा बंडा , डी के अरूना का दावे
रियास्ती वज़ीरे इत्तेलात-ओ-ताअलुकात-ए-आमा डी के अरूना ने आज दावे किया कि रियासत में 11 नवंबर को शुरू होने वाला तीसरे मरहला का रचा बंडा प्रोग्राम मुत्तहदा आंध्र प्रदेश का आख़िरी रचा बंडा होगा।

रियास्ती वज़ीरे इत्तेलात-ओ-ताअलुकात-ए-आमा डी के अरूना ने आज दावे किया कि रियासत में 11 नवंबर को शुरू होने वाला तीसरे मरहला का रचा बंडा प्रोग्राम मुत्तहदा आंध्र प्रदेश का आख़िरी रचा बंडा होगा।

उन्होंने कहा कि ये प्रोग्राम 26 नवंबर तक जारी रहेगा । डी के अरूना ने बिशमोल चीफ़ मिनिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी तमाम क़ाइदीन से दरख़ास्त की के वो रियासत के तक़सीम के अमल में तआवुन करे।

उन्होंने कहा कि बदरा चिलिम डीवीझ़न को तेलंगाना रियासत में रखा जाना चाहीए। हैदराबाद के सवाल पर उलझन पैदा करने की कोई ज़रूरत नहीं है क्यूंकि ये शहर तेलंगाना का अटूट हिस्सा है।

उन्होंने कहा कि तेलंगाना अवाम बदरा चिलिम डीवीझ़न को छोड़ने के लिए तैयार नहीं है। कांग्रेस पार्टी ने रियासत की तक़सीम का फ़ैसला किया है सीमांध्र के क़ाइदीन को भी चाहीए कि वो अपनी पार्टी का फ़ैसला कुबूल करें ।

Top Stories