Thursday , December 14 2017

मुमताज़ माहिर नफ़सीयत डॉ मजीद ख़ान का इंतेक़ाल

ये ख़बर इंतेहाई अफ़सोस के साथ पढ़ी जाएगी के शहर के आलमी शौहरत-ए-याफ़ता माहिर-ए-नफ़सीयत डॉ मुहम्मद अबदुलमजीद ख़ान वलद मुहम्मद अबदुलहमीद ख़ान मरहूम का 81 साल को इंतेक़ाल होगया। डॉ मुहम्मद मजीद ख़ान का शुमार हैदराबादी गंगा जमुनी तहज़ीब की

ये ख़बर इंतेहाई अफ़सोस के साथ पढ़ी जाएगी के शहर के आलमी शौहरत-ए-याफ़ता माहिर-ए-नफ़सीयत डॉ मुहम्मद अबदुलमजीद ख़ान वलद मुहम्मद अबदुलहमीद ख़ान मरहूम का 81 साल को इंतेक़ाल होगया। डॉ मुहम्मद मजीद ख़ान का शुमार हैदराबादी गंगा जमुनी तहज़ीब की नुमाइंदा शख़्सियात में होता था।

वो अपने रिवायती मिज़ाज रवादारी-ओ-मिलनसारी के सबब हलक़ा अहबाब में काफ़ी मक़बूल थे। डॉ मजीद ख़ान का शुमार शहर की इन शख़्सियात में होता है जो हैदराबाद के माज़ी और हाल को बहुत क़रीब से देखा है।

डॉ मजीद ख़ान का शुमार दुनिया के सरकरदा माहिरीन अमराज़ नफ़सियात में होता है। वो मुल्क और बैरून-ए-मुमालिक में क़ौमी-ओ-बैन-उल-अक़वामी कांफ्रेंसों में अमराज़ नफ़सियात और ईलाज पर अपने तहक़ीक़ी मक़ाले पेश करचुके हैं।

पसमानदगान में अहलिया के अलावा दो दुख़तर दो भाई और एक बहन शामिल हैं। नमाजे जनाज़ा 11मई को बाद नमाज़ ज़ुहर मस्जिद आलीया गणफाउंड्री में अदा की जाएगी। तफ़सीलात के लिए 9490751750 पर रब्त करें।

TOPPOPULARRECENT