Monday , December 18 2017

मुरासला हक़ायक़ नाक़ाबिले ब्यान: रहमान मलिक

फैसलाबाद,जड़ांवाला जनवरी (ए एफ़ पी) वफ़ाक़ी वज़ीर-ए-दाख़िला रहमान मलिक ने कहा है कि खेना के बारे में बहुत से हक़ायक़ से आगाह हैं लेकिन अभी बात नहीं कर सकते, मंसूरएजाज़ पाकिस्तान के ख़िलाफ़ साज़िशों का अहम मोहरा है, मुरासला स्कैंड

फैसलाबाद,जड़ांवाला जनवरी (ए एफ़ पी) वफ़ाक़ी वज़ीर-ए-दाख़िला रहमान मलिक ने कहा है कि खेना के बारे में बहुत से हक़ायक़ से आगाह हैं लेकिन अभी बात नहीं कर सकते, मंसूरएजाज़ पाकिस्तान के ख़िलाफ़ साज़िशों का अहम मोहरा है, मुरासला स्कैंडल के मर्कज़ी किरदार मंसूर एजाज़ को पासपोर्ट और वीज़ा के बगै़र पाकिस्तान आने की इजाज़त नहीं दी जाएगी अगर वो आता है तो इस से हम ये ज़रूर पूछेंगे कि वो किस के कहने पर आई ऐसआई और मुल्क केख़िलाफ़ मज़ामीन लिखता रहा, मंसूर एजाज़ एक ग़ैर मुल्की है,नवाज़ लीग जमहूरीयत की क़ातिल है जिस ने हमेशा पीपल्ज़पार्टी की पीठ में छुरा घोंपा, आइन्दा वोट सिर्फ शनाख़ती कार्ड पर ही डालने की इजाज़त होगी।

इन ख़्यालात का इज़हार उन्हों ने जड़ांवाला में पासपोर्ट ऑफ़िस के इफ़्तिताह के बाद जलसा से ख़िताब और मीडीया से गुफ़्तगु करते हुए किया। रहमान मुल्क ने कहा कि नवाज़ लीग ने हमेशा पीपल्ज़ पार्टी की जमहूरी हुकूमत की पीठ में छुरा घोंपा है वो किस मुंह से जमहूरीयत की बात करते हैं। ये वो जमात है जो जमहूरीयत की क़ातिल है, नवाज़ लीग के रहनुमा ग़ैर मुल्कीयों के आला कार बने हुए हैं।

TOPPOPULARRECENT