Wednesday , July 18 2018

मुर्गे के मांस को गोमांस बताकर हंगामा करने पर हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं पर मुकदमा

प्रतीकात्मक तस्वीर

जयपुर के एक होटल मालिक ने गोमांस परोसने के झुठे आरोप लगाने को लेकर हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं पर मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस के मुताबिक, होटल मालिक ने शिकायत की है कि रविवार को गोरक्षा दल के सदस्यों ने उनके होटल का घेराव किया और उनके साथ बदसलूकी की।

हयात होटल के मालिक नईम रबानी का कहना है कि उन्हें हिंदू संघठनों ने आकर धमकाया और उनके धर्म के खिलाफ आपत्तिजनक बातें कही। फिलहाल रबानी के होटल को जयपुर नगर निगम ने सील कर दिया है और उसके लाइसेंस को रद्द कर दिया गया है।

दरअसल, पूरा मामला सिंधी कैंप थाना इलाके के कांतिनगर में पेश आया है। यहां होटल के दो कर्मचारी रविवार को अपने होटल का कचरा फेंक रहे थे, जिसमें मांस का कुछ टुकड़ा भी था। लेकिन कुछ लोगों ने उसे गोमांस कहकर अफवाह फैला दिया जिसके बाद पूरे इलाके में तनाव फैल गया।

इसके बाद मामले को इतना तूल दिया गया कि पुलिस ने होटल के दोनों कर्मचारियों को शांति भंग करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। लेकिन कर्मचारियों ने सफाई देते हुए कहा कि यह होटल का सामान्य कचरा था। इसके बाद में दोनों को जमानत पर रिहा कर दिया गया।

दूसरी तरफ सिंधी कैंप थानाधिकारी मनफूल सिंह का कहना है कि मांस का टुकड़ा मिला वो गोमांस नहीं है। उन्होंने बताया कि यह 800 ग्राम वजनी मुर्गे के मीट का टुकड़ा था। यह उस इलाके के कचरा पात्र में डाला गया था। हमने दो लोगों को शांति भंग करने के आरोप में गिरफ्तार किया था।

TOPPOPULARRECENT