Monday , December 18 2017

मुलाइम और अखिलेश ने आज़म ख़ान के सामने घुटने टेक दिए : मुनीका गांधी

मुज़फ़्फ़र नगर के फ़िर्कावाराना फ़सादाद की समाजवादी पार्टी को तन्क़ीद का निशाना बनाते हुए बी जे पी एम पी मुनीका गांधी ने कहा कि पार्टी सरबराह मुलाइम सिंह और वज़ीर आला अखिलेश यादव ने यू पी के काबीनी वज़ीर मिस्टर आज़म ख़ान के रूबरू घुटने टेक दिए।

मुज़फ़्फ़र नगर फ़सादाद में आज़म ख़ान के मुबय्यना रोल के बारे में अख़बारी नुमाइंदों के एक सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि बाप बेटे आज़म ख़ान के आगे घुटने टेक चुके हैं और अव्वाम का इसका ख़ुसूसी तौर पर नोट लेना चाहिए। अपनी बात जारी रखते हुए उन्हों ने कहा आज़म ख़ान अपनी जुबान से रियासत को नुक़्सान पहुंचा रहे हैं।

मुख़्तलिफ़ फ़िर्क़ों में दराड़ पैदा करते हुए उन्हें मुनक़सिम करना मुनासिब नहीं है। रियासत अब इस इमतियाज़ी रवैया की बरदाश्त करने वाले नहीं होसकती। एक टी वी चैनल ने अपने स्टिंग ऑपरेशन में ये उजागर‌ किया है कि मुज़फ़्फ़र नगर फ़सादाद के दौरान पुलिस की कारकर्दगी पर सियासी मुदाख़िलत उरूज पर थी।

उन्होंने कहा कि 2014 -ए-के लोक सभा इंतिख़ाबात केलिए वो पीलीभीत से इंतिख़ाबी उम्मीदवार होंगी। ये पूछे जाने पर कि बी जे पी क़ाइदीन को मुज़फ़्फ़र नगर फ़सादाद के मुक़ामात का दौरा करने से रोक दिया गया था जिस का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि ऐसा करने से अव्वाम की मुज़ाहमत में इज़ाफ़ा होगा।

याद रहे कि बी जे पी सरबराह राज नाथ सिंह और ऊमा भारती को मुज़फ़्फ़र नगर का दौरा करने की इजाज़त नहीं दी गई थी और यही सुलूक बी जे पी एम पी वरूण गांधी के साथ भी किया गया जब उन्हें आगरा का दौरा करने की इजाज़त नहीं दी गई।

TOPPOPULARRECENT