Monday , December 11 2017

मुलाज़मीन(employes) की मुशतर्का मजलिस और‌ अमल से बात चीत करने हुकूमत का फैसला।

हैदराबाद । /20 अक्टूबर (सियासत न्यूज़) हुकूमत ने सरकारी मुलाज़मीन(employes)के मसाइल का जायज़ा लेने मुलाज़मीन असातिज़ा और वर्कर्स की मुशतर्का मजलिस-ए-अमल के क़ाइदीन को मदऊ करके बातचीत करने का फ़ैसला किया है ।

हैदराबाद । /20 अक्टूबर (सियासत न्यूज़) हुकूमत ने सरकारी मुलाज़मीन(employes)के मसाइल का जायज़ा लेने मुलाज़मीन असातिज़ा और वर्कर्स की मुशतर्का मजलिस-ए-अमल के क़ाइदीन को मदऊ करके बातचीत करने का फ़ैसला किया है ।

बावसूक़ ज़राए ने कहा कि सरकारी मुलाज़मीन और‌ असातिज़ा और वर्कर्स की मुशतर्का मजलिस-ए-अमल ने मुलाज़मीन के देरीना मसाइल(स्मस्यो )पुराने सम्सयाएं) की यकसूई के मुतालिबा पर अपना एहितजाजी प्रोग्राम शुरू करने हुकूमत को नोटिस दी थी ।

बिलख़सूस महिकमा टरीझ़रीज़ ऐंड अकाउनटस(accounted) मुलाज़मीन की जानिब से हुकूमत को हड़ताल की नोटिस को पेशे नज़र रखते हुए हुकूमत को अपने मौक़िफ़ में नरमी पैदा करने पर मजबूर होना पड़ा । तवक़्क़ो है कि हुकूमत मुशतर्का मजलिस-ए-अमल क़ाइदीन से आइन्दा दिनों में बातचीत का आग़ाज़ करेगी।

TOPPOPULARRECENT