मुलायम को बताया यूपी का मोदी

मुलायम को बताया यूपी का मोदी
यूपी के मुजफ्फनगर दंगों के लिए मुस्लिम तंज़ीमो ने समाजवादी पार्टी के सरबराह मुलायम सिंह यादव को जिम्मेदार ठहराया है तंज़ीमो ने यादव के किरदार पर सवाल उठाते हुए उन्हें यूपी का मोदी करार दिया है | मौलाना मुलायम और मुस्लिम हामी कहे ज

यूपी के मुजफ्फनगर दंगों के लिए मुस्लिम तंज़ीमो ने समाजवादी पार्टी के सरबराह मुलायम सिंह यादव को जिम्मेदार ठहराया है तंज़ीमो ने यादव के किरदार पर सवाल उठाते हुए उन्हें यूपी का मोदी करार दिया है | मौलाना मुलायम और मुस्लिम हामी कहे जाने वाले सपा के सरबराह के लिए मुस्लिम तंज़ीम मुसलसल कई मुसिबतें पैदा कर रहे हैं |

ऑल इंडिया तंजीम उलेमा ए हक के कौमी सदर मौलाना एजाज कासमी का कहना है कि मुजफ्फरनगर दंगों में मुलायम का असली चेहरा सामने निकलकर आया है उन्होंने मुलायम की बराबरी मोदी से की और साथ ही उन्होंने कहा कि दंगों में मुलायम का फिर्कावाराना चेहरा बाहर निकलकर आया है.

दंगों को रोकने में हुकूमत की नाकामी बताते हुए उन्होंने कहा कि फिर्कावाराना दंगें तो मुल्क में आए दिन होते रहते हैं अगर हुकूमत0 चाहे तो इन दंगों को एक घंटे में रोक सकती है लेकिन हुकूमत अपने सियासी मुफाद इन दंगों में भूनाने में लगी रहती है उन्होंने सपा की हुकूमत पर इल्ज़ाम लगाया कि इलाके में दंगे होते रहे, बेकसूर मारे जा रहे थे और हुकुमत सिर्फ तमाशा देख रही थी |

ऑल इंडिया तंजीम उलेमा ए हक ने 2001 में सपा के सरबराह मुलायम सिंह यादव को दिल्ली में राम मनोहर लोहिया अवार्ड देकर इज़्ज़त अफ्ज़ाई की गयी थी | लेकिन इदारे ने मुलायम को एक खत लिखकर 10 दिनों के अ‍ंदर वो एज़ाज़ ( अवार्ड) वापस लौटाने का कहा है | इदारे का कहना है कि इस एज़ाज़ के लिए मुलायम काबिल नहीं हैं |

कासमी ने मोदी पर निशाना लगाते हुए कहा कि मोदी किसी भी सूरत में मुल्क के वज़ीर ए आज़म नहीं बन सकते क्योंकि उनकी पार्टी बीजेपी में ही मोदी के मुखालिफ हैं और मोदी के नाम पर मुसलमानों को डराया जा रहा है | साथ ही उन्होंने मुस्लिम सियासतदानो को भी निशाना बनाते हुए उन्होंने कहा कि सियासी पार्टियां अपने मुफाद को देखते हुए मुसलमानों को ऊंचे ओहदे दे देती है लेकिन ये मुस्लिम सियासतदां अपनी कम्यूनिटी के लिए कुछ भी नहीं करते बल्की ये केवल नाम के कम्यूनिटी के नुमाइंदे होते हैं |

कुछ दिन पहले कांग्रेस ने भी यूपी में हुए दंगों की बराबरी गुजरात के दंगों से की थी कांग्रेस के लीडर राशिद अल्वी ने कहा था कि यूपी के दंगों ने गुजरात के दंगों को भी पीछे छोड़ दिया है दंगे से मुतास्सिर इलाके का मुआयना करने के बाद अल्वी ने कहा था कि गुजरात दंगों के बाद वे गुजरात भी गए थे और उन्होंने देखा कि यूपी के दंगों ने तो गुजरात के दंगों को भी पीछे छोड़ दिया |

पिछले हफ्ते गिरफ्तार किए गए मुजफ्फरनगर दंगों के मुल्ज़िम ( 3 MLAs) की जमानत की दरखास्त पर मंगल के दिन सुनवाई होगी | इन MLAs में बीजेपी के संगीत सोम, सुरेश राणा और बसपा के एमएलए नूर सलीम राणा शामिल है जिन्हें 21 सितंबर को 14 दिनों की अदालती हिरासत में भेजा गया था | इन दंगों में एक दर्ज से ज्यादा सियासदाँ और मज़हबी लीडरो के खिलाफ अरेस्ट वारंट जारी किया गया था लेकिन पुलिस की तरफ से अभी तक तीन MLAs को ही गिरफ्तार किया गया है |

———बशुक्रिया: पलपल इंडिया

Top Stories