Thursday , September 20 2018

मुलाय‌म सिंह यादव के ख़िलाफ़ एफ आई आर दर्ज करने की हिदायत

लखनऊ: एक मुक़ामी अदालत ने आज पुलिस को ये हिदायत दी है कि आई जी रुत्बा के एक ओहदेदार अमीताभ ठाकुर को मुबय्यना धमकी देने पर समाजवादी पार्टी सरबराह मुलाय‌म सिंह यादव के ख़िलाफ़ एफ आई आर दर्ज करते हुए इस वाक़िये की तहकीकात करें, जिस पर ज़बरदस्त तनाज़ा पैदा होगया है।

चीफ जुडिशनल मजिस्ट्रेट सोम प्रभा ने अमीताभ ठाकुर की शिकायत को समात के लिए क़बूल करते हुए एस एच और हज़ारी गंज को हिदायत दी कि ताज़ीरात हिंद की महतलफ़ दफात के तहत एफ आई आर दर्ज करें और बाद तहकीकात अदालत को मतला किया जाये जबकि 156(3) IPC सेक्शन के तहत पुलिस को एफ आई आर दर्ज करने की हिदायत का इख़तियार मजिस्ट्रेट को हासिल है।

इस्टेशन हाउज़ ऑफीसर हज़ारी गंज ने बताया कि मुलाय‌म सिंह के ख़िलाफ़ ये शिकायत महज़ शौहरत हासिल करने के लिए दाख़िल की गई। ताहम उन्होंने ये वज़ाहत नहीं की कि एफ आई आर दर्ज किया गया है य नहीं। मुलाय‌म सिंह यादव की जानिब से टेलीफोन पर संगीन नताइज की धमकियां देने पर एफ आई आर दर्ज करने से उत्तरप्रदेश पुलिस के इनकार के बाद अमीताभ ठाकुर अदलत से रुजू हुए हैं और बताया कि उनके इल्ज़ामात को नज़रअंदाज नहीं किया जा सकता।

वाज़िह रहे कि उत्तरप्रदेश हुकूमत ने ठाकुर को जारिया साल 13 जुलाई को इस वक़्त ख़िदमात से मुअत्तल कर दिया था जब उन्हें इस्मत रेज़ि केस में माख़ूज़ करने पर सी बी आई तहकीकात के लिए मर्कज़ी विज़ारत-ए-दाख़िला से रुजू हुए थे जिसके बाद ठाकुर और रियासती हुकूमत के दरमियान रस्सा-कशी शुरू होगी और उन्हें 200 सफ़हात पर मुश्तमिल चार्ज शीट पेश करते हुए वेजलेंस तहकीकात का हुक्म देदिया गया है।

TOPPOPULARRECENT