Tuesday , August 14 2018

मुलाज़िमत के लिए कारआमद तालीम पर ज़ोर

राइचोर इंफोसिस फाऊंडेशन की ख़ातून ओहदेदार सुधा मूर्ती ने हफ़्ते के दिन रंग मंदिर राइचोर में नौ जियोना महेला ओक्टा की दसवीं सालगिरा तक़रीब के मौके पर तक़रीरी करते हुए कहा कि ख़वातीन को चाहीए कि वो हमेशा इस बात पर तवज्जा देती रहें कि

राइचोर इंफोसिस फाऊंडेशन की ख़ातून ओहदेदार सुधा मूर्ती ने हफ़्ते के दिन रंग मंदिर राइचोर में नौ जियोना महेला ओक्टा की दसवीं सालगिरा तक़रीब के मौके पर तक़रीरी करते हुए कहा कि ख़वातीन को चाहीए कि वो हमेशा इस बात पर तवज्जा देती रहें कि उनके जो बच्चों को जो तालीम दी जा रही है वो तालीम एसी हो कि इस से हुसूल मुलाज़िमत में आसानी हो।

इस मौके पर सुधा ने ओक्टा के लिए बैंक में 10 लाख रुपये जमा करने की पेशकश भी की। ज़िला इंचार्ज वज़ीर डॉक्टर शरण प्रकाश पाटल जो इस जलसे में बहैसीयत मेहमान ख़ुसूसी शरीक थे उन्होंने अपनी तक़रीर में कहा कि बहुत से हुकूमती प्रोग्राम हर शख़्स तक नहीं पहुंच पारहे हैं क्यूंकि उनको नाफ़िज़ करने वाले ओहदादारनू ने मुकम्मिल इख़लास -ओ-ईमानदारी के साथ ख़िदमात अंजाम नहीं दे रहे हैं।

उन्होंने कहा कि मुल्क भर में कई एक दौलतमंद लोग हैं लेकिन सुधा मूर्ती जैसी दामे , दिरमे, सिखने समाज की ख़िदमत करनेवाली शख्सियतें बहुत कम हैं।

TOPPOPULARRECENT