Thursday , December 14 2017

मुल्क की सियासत में फौज का दखल है: हिना

इस्लामाबाद: पाकिस्तान की साबिका वज़ीर ए खारेज़ा हिना रब्बानी खार ने कुबूल किया है कि मुल्क की सियासत में फौज का दखल ज्यादा है. एक टीवी शो में हिना ने ये भी कहा है कि वज़ीर ए आज़म नवाज शरीफ को काम करने की उतनी आजादी नहीं है, जितनी होनी चाहिए.

इस दौरान हिना ने कहा कि साबिक वज़ीर ए दिफा चौधरी अहमद मुख्तार का वह दावा गलत है, जिसमें मुख्तार ने कहा था कि हुकूमत जानती थी कि लादेन कहां है. गौरतलब है कि जब अमेरिका ने पाकिस्तान के एबोटाबाद में लादेन को मार गिराया गया था, तब हिना ही वज़ीर ए खारेज़ा थीं.

हिना ने कहा कि मुख्तार नहीं जानते कि वे क्या कह रहे हैं. मुख्तार को दिफा या बैरूनी पालिसी की कोई इत्तेला नहीं है. दहशतगर्द को पाकिस्तान की ताईद या हिमायत के मामले में उन्होंने कहा कि यह इल्ज़ाम गलत हैं.

पाकिस्तान के पास अपनी सरहदों में किसी भी दहशतगर्द तंज़ीम की मदद करने की ताकत ही नहीं थी. साबिका वज़ीर ए खारेज़ा ने कहा कि किसी भी दहशतगर्द नेटवर्क को फंडिंग किए जाने को लेकर भी पाकिस्तान की कोई पालिसी नहीं रही है |

TOPPOPULARRECENT