Thursday , December 14 2017

मुशर्रफ की पार्टी करेगी इंतेखाबात का बायकाट

इस्लामाबाद, 05 मई: इक्तेदार (सत्ता) में रहने के दौरान अपने फैसलों को लेकर कई कानूनी मामलों का सामना कर रहे पाकिस्तान के साबिक फौजी हुक्मरान परवेज मुशर्रफ की पार्टी ने कहा है कि वह 11 मई को होने वाले आम इंतेखाबात का बायकाट करेगी। यह कदम

इस्लामाबाद, 05 मई: इक्तेदार (सत्ता) में रहने के दौरान अपने फैसलों को लेकर कई कानूनी मामलों का सामना कर रहे पाकिस्तान के साबिक फौजी हुक्मरान परवेज मुशर्रफ की पार्टी ने कहा है कि वह 11 मई को होने वाले आम इंतेखाबात का बायकाट करेगी। यह कदम पेशावर हाई कोर्ट के उस फैसले के बाद उठाया गया है, जिसके तहत मुशर्रफ पर ताहयात इ‍लेक्शन लड़ने पर पाबंदी लगा दी गयी है |

मुशर्रफ को 2007 में इमरजेंसी लगाने, बेनजीर भुट्टो कत्ल केस व 2006 में बलूच लीडर अकबर बुगती के कत्ल के मामले में गिरफ्तार किया गया है। मुशर्रफ की पार्टी ऑल पाकिस्तान मुस्लिम लीग (एपीएमएल) के तरजुमान मुहम्मद अमजद ने यहां पर मुनाकिद प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि उनकी पार्टी चुनाव का बायकाट करेगी।

उन्होंने कहा कि मुशर्रफ की नामज़दगी (Enrollment) खारिज होने के बाद पार्टी ने यह फैसला लिया है। मुशर्रफ अपने खिलाफ सभी मामलों का मुकाबला करेंगे। वह इल्ज़ामों से डरकर नहीं भागेंगे । अमजद ने बताया कि एपीएमएल की ओर से इलेक्शन लड़ रहे सभी 170 उम्मीदवारों ने अपना नामज़दगी वापस ले लिया है। एपीएमएल के लीडरों ने कहा कि उनका मानना है कि मौजूदा इलेक्शन कमीशन के तहत आज़ाद और मुंसिफाना इंतेखाबात मुनासिब नहीं है।

गुजशता मंगल को पेशावर हाई कोर्ट ने उनके इलेशन लड़ने पर तहयात पाबंदी लगा दिया था। यह पाबंदी सदर रहने के दौरान दो बार आइन रद्द करने और इमर‍जेंसी लागू करने के लिए लगाया गया था। भुट्टो कत्ल केस के मामले में उन्हें 14 मई तक अदालती हिरासत में भेजा गया है। फिलहाल उन्हें उनके फार्म हाउस में रखा गया है, जिसे सब जेल ऐलान किया गया है।

TOPPOPULARRECENT