Friday , December 15 2017

मुसलमानों की तरक़्क़ी के लिए भी सब प्लान ज़रूरी

सीनिएर कांग्रेस क़ाइद व‌ साबिक़ नायब सदर उर्दू एकेडेमी एस के अफ़ज़लुद्दीन ने रियासत में कांग्रेस हुकूमत की तरफ से दर्ज फ़हरिस्त तबक़ात-ओ-क़बाइल के लिए ज़ेली मंसूबे का ख़ैर मुक़द्दम करते हुए कहा कि हुकूमत ने सब प्लान को क़ानूनी सूरत देन

सीनिएर कांग्रेस क़ाइद व‌ साबिक़ नायब सदर उर्दू एकेडेमी एस के अफ़ज़लुद्दीन ने रियासत में कांग्रेस हुकूमत की तरफ से दर्ज फ़हरिस्त तबक़ात-ओ-क़बाइल के लिए ज़ेली मंसूबे का ख़ैर मुक़द्दम करते हुए कहा कि हुकूमत ने सब प्लान को क़ानूनी सूरत देने के लिए तमाम तैयारियां मुकम्मल करली हैं ।

और इस ताल्लुक़ से 30 नवंबर और एक्म दिसंबर को असैंबली का ख़ुसूसी मीटिंग तलब किया है । उन्हों ने कहा कि सदियों से पिछड़े तबक़ात को शाहराह तरक़्क़ी पर लाने और उन की फ़लाह-ओ-बहबूद और ख़ुशहाली के इक़दामात करने का कांग्रेस ने अज़म कर रखा है ।

इसी तरह मुलक की आज़ादी के बाद से जो तबक़ा सब से ज़्यादा मुतास्सिर और बदहाल हुआ है वो मुसलमानों का तबक़ा है । जिन की हालत उस वक़्त पसमांदा तबक़ात , दर्ज फ़हरिस्त तबक़ात और क़बाइल से भी गई गुज़री होगई है जिस का एतराफ़ हकूमत-ए-हिन्द के क़ायम करदा जस्टिस रंगनाथ मिश्रा कमीशन और सच्चर कमेटी ने भी किया है ।

इन हालात में ज़रूरत है कि रियासत के मुसलमानों के लिये भी सब प्लान बनाया जाये और जिस तरह स्कालर शपस-ओ-फीस की पा बजाई की स्कीमों में मुस्लमानों को इन तबक़ात-ओ-क़बाइल के मुमासिल सहूलतें दी जा रही हैं इन ही ख़ुतूत पर मुस्लमानों के लिये सब प्लान को भी रूबा अमल लाया जाये ।।

TOPPOPULARRECENT