Wednesday , December 13 2017

मुसलमानों के खिलाफ रची जा रही है साजिश

हमें अपनी ताकत पहचाननी होगी, फिरकापरस्ती के जरिये सियासत की लड़ाई लड़ी जा रही है, यह गलत है। ये बातें एकरा मस्जिद के खतीब मौलाना ओबेदुल्लाह कासमी ने अंजुमन इसलामिया एडोटोरियम में अंजुमन की तरफ से मुनक्कीद इजलास में कहें।

हमें अपनी ताकत पहचाननी होगी, फिरकापरस्ती के जरिये सियासत की लड़ाई लड़ी जा रही है, यह गलत है। ये बातें एकरा मस्जिद के खतीब मौलाना ओबेदुल्लाह कासमी ने अंजुमन इसलामिया एडोटोरियम में अंजुमन की तरफ से मुनक्कीद इजलास में कहें।

उन्होने कहा की रंजीत सिंह कोहली मुसलमान नहीं है। उसके मुसलमान होने का कोई सुबूत नहीं मिला है। एक साजिश के तहत मुसलमानों को बदनाम करने की साजिश रची जा रही है। शहर काजी कारी जान मोहम्मद रिजवी ने कहा की तमाम एदारा रंजीत मुस्लिम है की नहीं इस पर मिलकर काम करें। इजलास की सदारत करते हुये अंजुमन के सदर इबरार अहमद ने कहा की हमे मुत्तहीद होने की ज़रूरत है।

उन्होने ये भी कहा की रंजीत कोहली मामले में जबर्दस्ती एक तबके को बदनाम करने की साजिश चल रही है। उन्होने हाल के दिनों में मुस्लिमों के साथ हुयी वाकियात का तफसील दिया। इजलास में मौलाना तौफीक अहमद कादरी, मौलाना असगर मिसबाही, मौलाना तल्हा नदवी, कारी अय्युब, मुंतजीब, हाजी गयासुद्दीन, अवामी खिदमत गुज़ार नसीर अफसर, एनुल हक़ अंसारी ने भी अपनी बातों को रखा। इसके पहले मौलाना सिद्दीकी मुजाहिरी ने दुआ कराई। एहतेताम मौलाना तहजीबुल हसन के किया, जबकि मेमोरेंडम मुख्तार अहमद ने किया। प्रोग्राम में अंजुमन के ओहदेदार प्रोफेससर एन जुबेरी, ज़ाहिद, शाहिद, अशफाक़ आलम, नसीम, जाबिउल्लह, नौशाद, अशफाक़ आलम, सज्जाद, शहजाद फाइजि, शम्स कमर, ए आलम, तनवीर अहमद, नक़ीब के एलावा मुखतलिफ़ तंजीम और अदारों के सरबराह मौजूद थे।

TOPPOPULARRECENT