मुसलमानों के मसाइल की यकसूई की कोशिश

मुसलमानों के मसाइल की यकसूई की कोशिश

महबूबनगर 09 सितंबर: रियासत तेलंगाना मुस्लिम लीग को मुस्तहकम करने की ग़रज़ से मर्कज़ी क़ियादत की ईमा पर रियासती क़ाइदीन मुहम्मद इमतियाज़ हुसैन रियासती सदर मिर्ज़ा क़ुद्दूस बैग रियासती ख़ाज़िन , मुहम्मद अरशद रियासती नायब सदर ने तेलंगाना स्टेट के अज़ला का दौरा करते हुए मुसलमानों को तंज़ीम से जोड़ने की कोशिश कर रहे हैं।

एक प्रेस रीलीज़ में तफ़सीलात बताते हुए इन क़ाइदीन ने कहा कि रियासत तेलंगाना में मुस्लिम सियासी ख़ला पैदा हुआ है। इस ख़ला को पुर करने के लिए मुस्लिम लीग के मक़ासिद को मुसलमानों तक फैलाना ज़रूरी है।

ताके मज़लूमों को इन्साफ़ मिल सके। क्युंकि रियासती हुकूमत मुसलमानों की फ़लाह-ओ-बहबूद के नाम पर सिर्फ ज़बानी जमा ख़र्च कर रही है। 12 फ़ीसद तहफ़्फुज़ात के लिए 16 माह का अरसा गुज़र गया है मगर अभी तक के सी आर का वादा वफ़ा-ए-ना हुआ। सिर्फ़ कमीशन के नाम पर मुसलमानों को गुमराह किया जा रहा है।

जबकि रिज़र्वेशन मुसलमानों का बुनियादी हक़ है और इस हक़ से दूर रखा जा रहा है जो दस्तूर के खिलाफ है। इस को मुस्लिम लीग कभी बर्दाश्त नहीं करेगी। मुसलमानों को ख़ुद रोज़गार के लिए क़र्ज़ फ़राहम किया जाये। मुस्लिम मुहल्लाजात में उर्दू आँगनवाड़ी सेंटरस के क़ियाम को रद्द-ए-अमल लाया जाये।

देहातों मंडलों ताल्लुक़ाजात में उर्दू मीडियम , प्राइमरी, हाई स्कूल का क़ियाम अमल में लाया जाये। उर्दू मीडियम जोनईर कॉलेज में तमाम मज़ामीन का इंतेज़ाम हो।

इस ज़िमन में मर्कज़ी मुस्लिम लीग क़ियादत ई अहमद एम पी साबिक़ मर्कज़ी वज़ीर ने वादा किया हैके रियासत का दौरा करते हुए मुसलमानों के अंदर बेचैनी और मायूसी को दूर करेंगे।

Top Stories