Wednesday , December 13 2017

मुसलमानों को अपनी देशभक्ति के लिये सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं: शाही इमाम

वज़ीर ए आज़म नरेंद्र मोदी की ओर से हिंदुस्तान के मुसलमानों के बारे में दिए ताज़ा बयान की हर तरफ तारीफ हो रही है, लेकिन दिल्ली की जामा मस्जिद के शाही इमाम अहमद बुखारी और कांग्रेस ने इसी बहाने मोदी पर हमला किया है|

वज़ीर ए आज़म नरेंद्र मोदी की ओर से हिंदुस्तान के मुसलमानों के बारे में दिए ताज़ा बयान की हर तरफ तारीफ हो रही है, लेकिन दिल्ली की जामा मस्जिद के शाही इमाम अहमद बुखारी और कांग्रेस ने इसी बहाने मोदी पर हमला किया है|

मोदी के ताज़ा बयान पर शाही इमाम ने कहा, ” हिंदुस्तान के मुसलमान मुल्क के वफादार हैं| मुसलमानों को अपनी हुब्बल वतनी (देशभक्ति) के लिए किसी से सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं है|मोदी ने जो कुछ मुसलमानों से कहा वो उन्हें अपने लोगों से कहना चाहिए और उन्हें समझाएं| ”

अहमद बुखारी ने आगे कहा, “मोदी की एक वज़ीर कहती हैं कि गोश्त के कारोबार का सारा पैसा दहशगतर्दों को जा रहा है|आदित्यनाथ और साक्षी महाराज भी भड़काऊ बयान दे रहे हैं|उन लोगों को समझाने की जरूरत है न कि मुसलमानों को|”

आपको बता दें कि अमेरिकी चैनल सीएनएन को दिए इंटरव्यू में मोदी ने कहा है कि हिंदुस्तान के मुसलमानों की हुब्बल वतनी पर सवाल नहीं उठाया जा सकता है और हिंद के मुसलमान मुल्क के लिए ही जिएंगे और मुल्क के लिए ही मरेंगे|

मोदी के ताज़ा बयान पर कांग्रेस ने भी मोदी पर हमला किया है| कांग्रेस के लीडर और साबिक वज़ीर ए खारेज़ा सलमान खुर्शीद ने कहा कि अगर मोदी का दिल बदल हुआ है तो ये अच्छा है, लेकिन किसी के एक इंटरव्यू के बयान से उसकी सोच नहीं समझी जा सकती|

सलमान खुर्शीद ने पूछा कि अब तक मोदी इसपर खामोश क्यों थे और उन्हें ऐसा बोलने से कौन रोक रहा था|सलमान ने कहा, “मोदी ने जो कहा है, उसमें सच्चाई क्या है मैं नहीं जानता|”

मुख्तार अब्बास नकवी ने मोदी के बयान की जमकर तारीफ की है| उन्होंने कहा, “आज दुनिया में अलकायदा और आईएसआई सरगर्मियों में लगे हुए हैं, होड़ लगी है, लेकिन खुशी की बात है कि इस चुंगल में न कभी हिंदुस्तान के मुसलमान फंसे और न फंसने वाले हैं| यह बात सही है कि हमारे मुल्क में सेकुलर के जो सियासी सूरमा हैं उन्होंने मुसलमानों का बड़ी बे-दर्दी के साथ इस्तेहसाल किया|”

उन्होंने आगे कहा, “जब मोदी इलेक्शन में गए तब भी कहा ‘सबका साथ, सबका विकास’, और ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’| यही सबूत हैं कि मोदी बिना किसी इख्तेलाफ के साथ काम कर रहे हैं|”

मोदी को हर तरफ से तारीफ मिल रही है|शाहिद सिद्दीकी ने उनके बयान को सच्चा बयान करार दिया है|

शाहिद सिद्दीकी कहते हैं, ” पीएम का बयान सच्चा वायदा है और उन्होंने ऐसा कहकर मुसलमानों के दिल की बात कही है| मोदी ने ऐसा कहकर उनके दिलों को छू लिया है कि ‘हिंद का मुसलमान हिंदुस्तान के लिए जीता है और हिंदुस्तान के लिए मरेगा|’ अलक़ायदा जैसे तंज़ीम कभी कामयाब नहीं हो सकते| मुसलमान उनके इशारों पर नहीं नाच सकते. मुसलमानों ने एक बार नहीं बल्कि हजार बार ये दिखाया है|”

मुस्लिम लीडर ही नहीं, मुस्लिम रहनुमा भी मोदी के ताज़ा बयान की तारीफ कर रहे हैं|मुफ्ती मुकर्रम ने कहा, “मोदी ने जो कहा है वह पूरी तरह से सच है|हिंदुस्तान के बहुत सारे लीडरों ने ये बात कही है|मेरा मानना है कि यह एक सच्चाई है क्योंकि हिंदुस्तान के मुसलमानों ने हमेशा मुल्क के लिए अपनी जानें कुर्बान की हैं| हिंदुस्तान की तरक्की के लिए मुसलमानों ने बड़ा ताऊन किया है| पीएम ने जो कहा है वह बल्कि सही कहा है|”

यासुब अब्बास ( शिया मजहब के रहनुमा) ने मोदी के बयान का इस्तेबल करने के साथ ही यह भी कहा कि वतन से मुहब्बत मुसलमानों के ईमान का हिस्सा है और बिना इसके वह मुसलमान हो ही नहीं सकता|

यासुब अब्बास ने कहा, ” पीएम का बहुत ही अच्छा बयान है| उनके बयान का खैर मकदम होना चाहिए| इस्लाम मज़हब भी कहता है कि हुबुलवतन मिनल इमान यानी मुल्क से मुहब्बत ईमान का हिस्सा है| अगर अहम अपने वतन के नहीं हो सके, हम अपने मुल्क के नहीं हो सके, तो फिर हम किसी के नहीं हो सकते|”

उन्होंने आगे कहा, “अलकायदा चीफ अल-जवाहिरी का जो बयान आया है, ये सब इस्लामी लेबादा पहनकर, लंबी दाढ़ियां बढ़ाकर, नीचे कुर्ते पहन कर, कांधे पर एके47 रखकर.. ये खूनी खेल खेल रहे हैं चाहे ये आईएसआई वाले हों या अलजवाहिरी हो ये सब इस्लाम को बदनाम कर रहे हैं|”

इस्लाम का दहशतगर्द से कोई दूर दूर का रिश्ता नहीं| इस्लाम दहशतगर्दी को पसंद नहीं करता|

TOPPOPULARRECENT