Saturday , May 26 2018

मुसलमानों को तमिलनाडु के ख़ुतूत पर रिजर्वेशन की फ़राहमी के लिए केसीआर का अह्द

हैदराबाद 13अगस्त: चीफ़ मिनिस्टर के चन्द्रशेखर राव‌ ने मुसलमानों को तमिलनाडु की तर्ज़ पर रिजर्वेशन की फ़राहमी के लिए असेंबली के ख़ुसूसी मीटिंग में क़ानूनसाज़ी की जाएगी। चीफ़ मिनिस्टर ने सुधीर कमीशन आफ़ इन्क्वारी और जस्टिस चलपा कमीशन की रिपोर्टस हासिल करते हुए इन ख़्यालात का इज़हार किया। चीफ़ मिनिस्टर ने कहा कि मुस्लिम रिजर्वेशन के मसले पर बहुत जल्द काबीना का मीटिंग तलब किया जाएगा उस के बाद असेंबली का ख़ुसूसी मीटिंग तलब करते हुए रिजर्वेशन के हक़ में ख़ुसूसी क़ानूनसाज़ी की जाएगी। चीफ़ मिनिस्टर ने कहा कि मुसलमानों की तालीमी, समाजी और मआशी पसमांदगी की बुनियाद पर उन्हें रिजर्वेशन की फ़राहमी नागुज़ीर है जिसके ज़रीये उनकी सूरत-ए-हाल को बेहतर बनाया जा सकता है।

मुसलमानों की तालीमी, मआशी और समाजी पसमांदगी का जायज़ा लेते हुए रिजर्वेशन के मसले पर सिफ़ारिशात पेश करने के लिए क़ायम करदा सुधीर कमीशन आफ़ इन्क्वारी ने आज कैंप ऑफ़िस में चीफ़ मिनिस्टर से मुलाक़ात करते हुए अपनी रिपोर्ट पेश कर दी। इस मौके पर एसटी रिज़र्वेशन के मसले पर क़ायम किए गए जस्टिस चलपा कमीशन ने भी चीफ़ मिनिस्टर को अपनी रिपोर्ट पेश कर दी। सुधीर कमीशन के अरकान माहिरीन मआशियात आमिर उल्लाह ख़ां, प्रोफेसर अबदुल शाबान और माहिर-ए-तालीम एम-ए बारी और चलपा कमेटी के अरकान के जगन्नाथ राव‌ और एच ए नागो भी रिपोर्ट की पेशकशी के वक़्त मौजूद थे।

दोनों कमीशनों की रिपोर्ट की पेशकशी के मौके पर डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर मुहम्मद महमूद अली, वज़ीर-ए-दाख़िला एन नरसिम्हा रेड्डी, वज़ीर कबायली बहबूद अजमेरा चन्दू लाल, चीफ़ सेक्रेटरी राजीव शर्मा, ऐडवोकेट जनरल राम कृष्णा रेड्डी, चीफ़ मिनिस्टर के सेशल सेक्रेटरी एस नर्सिंग राव‌, ख़ुसूसी सेक्रेटरी भोपाल रेड्डी और दूसरों ने शिरकत की।

चीफ़ मिनिस्टर के दफ़्तर से जारी करदा बयान के मुताबिक़ चीफ़ मिनिस्टर ने कहा कि तेलंगाना में कमज़ोर तबक़ात बड़ी तादाद में हैं और उनकी सूरत-ए-हाल बेहतर बनाने के लिए रिजर्वेशन में इज़ाफे की ज़रूरत है। उन्होंने कहा कि मुसलमानों को आबादी के तनासुब से रिजर्वेशन की फ़राहमी के लिए तमिलनाडु की तर्ज़ पर ख़ुसूसी क़ानूनसाज़ी की जाएगी।

उन्होंने कहा कि एसटी तबक़ात को आबादी के एतबार से रिजर्वेशन की फ़राहमी के लिए दस्तूरी शराइत मौजूद हैं। हुकूमत इस बात की कोशिश करेगी कि इस सिलसिले में ज़रूरी कार्रवाई करते हुए उन्हें भी रिजर्वेशन फ़राहम किए जाएं।वाज़िह रहे कि आम चुनाव से पहले तेलंगाना राष़्ट्रा समीती ने मुसलमानों और दर्ज फ़हरिस्त क़बाईल को 12 फ़ीसद रिजर्वेशन फ़राहम करने का वादा किया था।

TOPPOPULARRECENT