Monday , May 28 2018

मुसलमानों को निराश नहीं करेंगे मुलायम: बुखारी

लखनऊ, जनवरी २८: उत्तर प्रदेश में मुस्लिम वोटों के लिए मचे घमासान के बीच दिल्ली की शाही मस्जिद के इमाम मौलाना अहमद बुखारी सपा चीफ मुलायम सिंह यादव के खेवनहार बनने जा रहे हैं।

लखनऊ, जनवरी २८: उत्तर प्रदेश में मुस्लिम वोटों के लिए मचे घमासान के बीच दिल्ली की शाही मस्जिद के इमाम मौलाना अहमद बुखारी सपा चीफ मुलायम सिंह यादव के खेवनहार बनने जा रहे हैं।

शनिचर को लखनऊ के होटल ताज में मौलाना बुखारी और मुलायम सिंह यादव की साझा प्रेस कांफ्रेंस हुई, जिसमें मौलाना बुखारी ने फिर्कावाराना ताकतों को सिक्शत करने के लिए समाजवादी पार्टी के उम्मीदवारों को जिताने की अपील की।

इसे सियासी बेचैनी ही कह सकते हैं कि जिसने मुलायम सिंह यादव को मौलाना बुखारी को करीब ले जाने के लिए मजबूर किया वर्ना दोनों के बीच कभी अच्छे रिश्ते नहीं रहे। मुलायम सिंह यादव ने एक बार बकायदा खत लिखकर मौलाना अब्दुल्ला बुखारी [मौलाना अहमद बुखारी के वालिद] को हिदायत दी थी कि वह इमाम हैं, उनका काम इमामत करना है, सियासत में न पड़ तो बेहतर रहेगा। सपा चीफ के खासुलखास आजम खां के भी कभी मौलाना बुखारी से अच्छे रिश्ते नहीं रहे।

लोकसभा इलेक़शन के बाद मुलायम सिंह यादव को जब लगा कि मुसलमान उससे दूर हो रहा है तो उन्होंने मौलाना बुखारी से अपनी नजदीकी बढ़ाई। मौलाना बुखारी ने भी अपने गिले शिकवे दूर किए और मगरीबी उत्तर प्रदेश में अपने दामाद को टिकट दिलवा दिया। यहां तक कि यह फैसला करते हुए मुलायम ने काजी रसीद मसूद की भी सलाह नहीं ली।

TOPPOPULARRECENT