Friday , December 15 2017

मुसलमानों को निशाना बनाना दहशतगर्दों का साथ देना है – ओबामा

अमरीकी सदर बाराक ओबामा ने अमरीकी अवाम पर ज़ोर दिया है कि वो ब्रसेल्ज़ में होने वाले धमाकों के बाद मुसलमानों को पूरी तौर पर ज़िम्मेदार क़रार ना दें। इस से शिद्दत पसंदी के ख़िलाफ़ जंग में नुक़्सान होने का इमकान है।

अपने हफ़्तावार ख़िताब में अमरीकी सदर बाराक ओबामा ने कहा कि अमरीकी मुसलमान शिद्दत पसंदी के ख़िलाफ़ अमरीकी जंग में हमारे सबसे अहम हलीफ़ हैं। वो मज़ीद कहते हैं, इसी लिए हर उस कोशिश की मुख़ालिफ़त करना चाहिए जो कि अमरीकी मुसलमानों को निशाना बनाने के हवाले से हो।

ये अमरीका के लिए मुसलमानों की ख़िदमात की नफ़ी होगी। अमरीकी सदर का कहना था है कि अमरीका जिन बुनियाद पर खड़ा है और जिस तरह की मज़हबी आज़ादी का वो तरफदार है उस को ठेस नहीं पहुंचना चाहिए।

ये दहशतगर्दों के हाथों में खेलने के मुतरादिफ़ होगा। वो चाहते भी यही हैं कि हमें एक दूसरे के ख़िलाफ़ कर दें ताकि वो अपनी नफ़रत अंगेज़ सरगर्मीयों के लिए लोगों को अपने साथ शामिल कर सकें।

TOPPOPULARRECENT