मुसलमान भाजपा और संघ को छोड़कर किसी भी राजनीतिक पार्टी से जुड़ सकते हैं- इमाम बरकती

मुसलमान भाजपा और संघ को छोड़कर किसी भी राजनीतिक पार्टी से जुड़ सकते हैं- इमाम बरकती

कोलकाता। टीपू सुलतान मस्जिद के शाही इमाम मौलाना नूरुल रहमान बरकाती एक बार फिर अपने बयान को लेकर सुर्खियों में हैं। मौलाना बरकाती ने कहा है कि मुसलमान भाजपा और संघ को छोड़कर किसी भी राजनीतिक पार्टी से जुड़ सकते हैं, लेकिन अगर कोई मुसलमान संघ या भाजपा से जुड़ेगा तो उसे इस्लाम से निकालने के साथ ही उसकी पिटाई की जाएगी।

हालांकि, उन्होंने कहा कि यह फतवा नहीं एक चेतावनी है। इसके साथ ही एक साथ तीन तलाक के फैसले पर उन्होंने मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड को एकजुट होकर फैसला लेने की सलाह भी दी। वहीं, मस्जिदों के सामने जय श्री राम का नारा लगाने वालों को उन्होंने हिजड़ा बताया।

संघ और भाजपा पर लगाया बंगाल का माहौल खराब करने का आरोप
शब-ए-बाराक के मौके को देखते हुए उन्होंने संघ और भाजपा पर समाज में अशांति फैलाने का भी आरोप लगाया।

ये बातें उन्होंने कोलकाता प्रेस क्लब में संवाददाता सम्मेलन में कही। उन्होंने कहा कि अगर कोई मुस्लिम भाजपा या संघ से जुड़ता है तो उसे सजा दी जाएगी। ऐसे लोगों को बुरी तरह पीटा जाएगा और फिर इस्लाम से खारिज किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि अगर भाजपा संघ से दूरी बना ले तभी मुसलमान भाजपा से जुड़ सकते हैं। लेकिन, जब तक भाजपा संघ के साथ काम करती है। ऐसी स्थिति में किसी भी मुसलमान को भाजपा से जुड़ने की इजाजत नहीं होगी।

Top Stories