Saturday , December 16 2017

मुसलमान होने जा रहे दलित सरपंच को मिल रही हैं धमकियां

(फ़ोटो- इंडियन एक्सप्रेस)

पोरबंदर: पोरबंदर के एक गाँव में एक दलित सरपंच ने बजरंग दल के कार्यकर्ताओं पे गुंडागर्दी और धमकियां देने का इलज़ाम लगाया है. असल में दलित सरपंच इस्लाम धर्म अपनाना चाहते हैं और जैसे ही ये ख़बर बजरंग दल के गुंडों को लगी उन्होंने तुरंत ही उस सरपंच को धमकियां देना शुरू कर दिया.

ख़बर के मुताबिक़ सुमन चावड़ा जिनकी उम्र 40 साल की है, विनज़राना गाँव में सरपंच हैं, उन्हें डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर ने 12 अप्रैल को धर्म परिवर्तन की इजाज़त दे दी, गुजरात फ्रीडम रिलिजन एक्ट के मुताबिक़ उन्हें ये आज़ादी है कि वो जिस मज़हब में चाहें रह सकते हैं. उन्होंने फ़ैसला किया था कि बाबा साहब भीम राव आंबेडकर की जयंती के मौक़े पर वो इस्लाम धर्म अपना लेंगे. वो इस्लाम धर्म सब के सामने अपनाना चाहते थे, जिसकी इजाज़त पुलिस ने नहीं दी. पुलिस ने इसके लिए सुरक्षा व्यवस्था की दुहाई दी. उसके बाद वो आंबेडकर पार्क पहुँच गए जहाँ उन्हें धर्म परिवर्तन करने से रोका गया. उन्होंने बताया कि बहुत सारे दबाव की वजह से, गुंडों, नेताओं की वजह से मेरे धार्मिक गुरु वासिम रज़ा और मेरे समर्थकों इब्राहीम उमर और हफ़ीज़ हबीब को यहाँ आने नहीं दिया गया.
इंडियन एक्सप्रेस में छपी ख़बर के मुताबिक़ पुलिस ने माना है कि वो आंबेडकर पार्क में धर्म परिवर्तन करना चाहते थे लेकिन भीड़ की वजह से उन्हें इजाज़त नहीं दी गयी.

पोरबंदर के डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर ने कहा कि उन्होंने धर्म परिवर्तन की इजाज़त दी थी लेकिन हिदायत दी थी कि वो आंबेडकर पार्क में कोई कार्यकर्म ना करें. उन्होंने चावड़ा के काम को ड्रामा कह दिया

TOPPOPULARRECENT