मुसलामानों का देश से भरोसा उठ जाता ,अगर अयोध्या में कारसेवकों पर गोली नहीं चलती: मुलायम सिंह

मुसलामानों का देश से भरोसा उठ जाता ,अगर अयोध्या में कारसेवकों पर गोली नहीं चलती: मुलायम सिंह

उत्तर प्रदेश: लखनऊ के एक बुक रिलीज़ फंक्शन में पहुंचे सपा सुप्रीमों मुलायम सिंह यादव ने नया ब्यान जारी करते हुए कहा है कि उन्होंने साल 1990 में अयोध्या में कारसेवकों पर गोली चलाने का फैसला देश की एकता बनाए रखने के लिए लिया था जोकि उनके हिसाब से बिलकुल सही था। हालाँकि इस गोलीकांड में महज 16 लोगों की जान गई थी लेकिन अगर इससे ज्यादा जानें भी जाती तो भी मैं अपने का आदेश को नहीं बदलता, उसी पर कायम रहता। मुलायम सिंह यादव ने दावा किया कि अयोध्या में गोली चलाने पर उनको बहुत विरोध और आलोचना झेलनी पड़ी थी लेकिन अगर वे उस वक्त गोली चलाने का आदेश नहीं देते, तो हिंदुस्तान के मुसलमानों का देश से इतबार उठ जाता। भारत में रहने वाले सभी हिंदू, मुस्लिम, सिख व ईसाई भारत के नागरिक हैं और देश की एकता के लिए उनका कदम सही था।

Top Stories