Sunday , December 17 2017

मुस्लमानों की मौजूदा हालत-ए-ज़ार की ज़िम्मेदार मर्कज़ी हुकूमत

क़ौमी सतह पर कमीयूनिसट पार्टी आफ़ इंडिया की मुहाज़ी तंज़ीम इंसाफ़ की जानिब से ऐलान करदा यौम अक़लीयत के पेशे नज़र इंसाफ़ ग्रेटर हैदराबाद की जानिब से दफ़्तर हैदराबाद कलक्टर पर एहितजाजी प्रोग्राम और धरना मुनज़्ज़म किया गया ।सी प

क़ौमी सतह पर कमीयूनिसट पार्टी आफ़ इंडिया की मुहाज़ी तंज़ीम इंसाफ़ की जानिब से ऐलान करदा यौम अक़लीयत के पेशे नज़र इंसाफ़ ग्रेटर हैदराबाद की जानिब से दफ़्तर हैदराबाद कलक्टर पर एहितजाजी प्रोग्राम और धरना मुनज़्ज़म किया गया ।सी पी आई सिटी सेक्रेटरी वी एस बोस के इलावा स्टेट जनरल सेक्रेटरी इंसाफ़ कामरेड नुसरत मुही उद्दीन सदर इंसाफ़ ग्रेटर हैदराबाद कामरेड मुहम्मद यूसुफ़ जनरल सेक्रेटरी मीर अहमद अली एस ए मन्नान मुहतरमा समीना ख़ान

मुनीर पटेल अली उद्दीन अहमद मुहम्मद अनवर मसऊद अहमद अज़ीज़ ख़ान मुहम्मद हबीबए याद गीरी के बशमोल सैंकड़ों कारकुनों ने इस एहितजाजी प्रोग्राम में हिस्सा लिया । तंज़ीम इंसाफ़ क़ौमी सतह पर अक़लीयतों के साथ जारी इंसाफ़ियों के ख़ातमा और मर्कज़ी वर्या सती बजट में अक़लीयतों की पंद्रह फ़ीसद हिस्सादारी के इलावा जस्टिस रंगनाथ मिश्रा कमीशन-ओ-राजिंदर सिंह सच्चर कमेटी की सिफ़ारिशात पर फ़ौरी अमल आ वारी का परज़ोर मुतालिबा करते हुए

सी पी आई और इंसाफ़ के क़ाइदीन ने कहा कि क़ौमी सतह पर मुस्लमानों की मौजूदा हालत-ए-ज़ार की ज़िम्मेदारी मर्कज़ी हुकूमत है जो अक़लीयतों बिलख़सूस मुस्लमानों से हमदर्दी के बलंद बाँग दावे तो करते हैं मगर अमली मैदान में हुकूमत की कारकर्दगी सिफ़र है मज़कूरा क़ाइदीन ने कहा कि मुल्क गीर सतह पर औक़ाफ़ इमलाक की बाज़याबी को यक़ीनी बना कर मुस्लमानों की हालत-ए-ज़ार में सुधार लिया जा सकता है

कमीयूनिसट क़ाइदीन ने अक़लीयतों को ख़ातिर ख़वाह अंदाज़ में तहफ़्फुज़ात फ़राहम करने में हुकूमतों की नाकामियों पर भी शदीद तास्सुफ़ का इज़हार किया और कहा कि तालीम और रोज़गार के मैदान में अक़लीयत हुकूमतों की अदम तोजहा का शिकार हैं ओर अक़लीयतों की मआशी परेशानीयों में दिन ब दिन इज़ाफ़ा की भी असल वजहा हुकूमत की अदम तवजही है

इस मौक़ा पर सी पी आई क़ाइदीन ने हालिया दिनों में हाईकोर्ट आंधरा प्रदेश के इस फ़ैसला का भी हवाला दिया जिस में लिंको हिलज़ को दरगाह हुसैन शाह वली (र) की मौक़ूफ़ा अराज़ी क़रार देते हुए अदालत उल आलिया ने क़ौमी और बैन-उल-अक़वामी तमाम कंपनीयों से मज़कूरा वक़्फ़ अराज़ी को मोतावाल्लियाने के हवाले करने के अहकामात जारी किए थे

कमीयूनिसट क़ाइदीन ने मुस्लिम अक़लीयत को तालीमी इमदाद फ़राहम करने के इलावा ददीगर शोबा जात में तहफ़्फुज़ात फ़राहम करने का रियास्ती हुकूमत से मुतालिबा करते हुए कलक्टर हैदराबाद को एक तहरीरी यादाशत भी पेश की।

TOPPOPULARRECENT