Friday , December 15 2017

मुस्लमानों केलिए लम्हा फ़िक्र

मस्जिद क़ुतुब शाही सात गुमबद गेरा बाद मस्जिद क़ुतुब शाही ,गुमबद सात गुमबद मैं गेरा बाद है लेकिन अफ़सोस कि महिकमा आरक्योलोजी की ग़फ़लत की वजह से हम मस्जिद के क़रीब भी नहीं जा सकते, मुकम्मल झाड़ीयों में छपी है। ये तस्वीर दूर से ली गई है। मस

मस्जिद क़ुतुब शाही सात गुमबद गेरा बाद मस्जिद क़ुतुब शाही ,गुमबद सात गुमबद मैं गेरा बाद है लेकिन अफ़सोस कि महिकमा आरक्योलोजी की ग़फ़लत की वजह से हम मस्जिद के क़रीब भी नहीं जा सकते, मुकम्मल झाड़ीयों में छपी है। ये तस्वीर दूर से ली गई है। मस्जिद ,सात गुमबद की बाॶनडरी से लगी हुई है। बड़े बड़े दरख़्त मस्जिद के अतराफ़ होने की वजह से मस्जिद के वजूद को ख़तरा होगया है।

ज़रूरत है फ़ौरी झाड़ीयों को साफ़ करने के इलावा मस्जिद की दाग़ दोज़ी की जाय लेकिन महिकमा आरक्योलोजी इस मस्जिद से ग़फ़लत बरत रहा है जिस की वजह समझ में नहीं आती। इस मस्जिद की हालत को देख कर हर मुहिब-ए-वतन शहरी फ़िक्र में मुबतला होजाता है। एक स्कियोरटी गार्ड ने बताया कि झाड़ीयों की वजह से मस्जिद की बोसीदगी में दिन बदिन इज़ाफ़ा होता जा रहा है।

TOPPOPULARRECENT