Wednesday , December 13 2017

मुस्लमानों के ऐहतिजाज के ख़िलाफ़ राज ठाकरे का जलूस

मुंबई पुलिस को चकमा देते हुए जिस ने राज ठाकरे को गड़गाम चौपाटी के आज़ाद मैदान तक एहितजाजी जलूस निकालने की इजाज़त नहीं दी थी,ऐम ऐम ऐच के सरबराह राज ठाकरे ने आज अपने हामीयों के जलूस की क़ियादत की,

मुंबई पुलिस को चकमा देते हुए जिस ने राज ठाकरे को गड़गाम चौपाटी के आज़ाद मैदान तक एहितजाजी जलूस निकालने की इजाज़त नहीं दी थी,ऐम ऐम ऐच के सरबराह राज ठाकरे ने आज अपने हामीयों के जलूस की क़ियादत की,

जो 11 अगस्त से तशद्दुद(हिंसा) के ख़िलाफ़ बतौर-ए-एहतजाज निकाला गया था और मुबय्यना तौर पर आसाम और मियांमार में मुस्लमानों पर मज़ालिम के ख़िलाफ़ एहतिजाज था।

हालाँकि महाराष्ट्रा नवनिर्माण सेना को जल्सा-ए-आम की इजाज़त नहीं दी गई थी लेकिन पुलिस पार्टी के जलूस को आज़ाद मैदान तक जाने से नहीं रोक सकी क्योंकि ऐसा करने से अमन दरहम ब्रहम होने का अंदेशा था।

ऐम इन एस के हामी पार्टी के नीले, भगवा और सबज़ पर्चम उठाए हुए थे। इस के इलावा पार्टी का इंतिख़ाबी निशान रेलवे इंजन भी इन परचमों के वस्त में छपा हुआ था।

वो गड़गाम चौपाटी पर जमा हुए और बाद अज़ां(उसके बाद) राज ठाकरे भी इस जलूस में शामिल होगए

TOPPOPULARRECENT