Tuesday , December 19 2017

मुस्लमानों के लिये लम्हा फ़िक्र

क़दीम क़ुतुब शाही मस्जिद महेशवरम गैर आबाद क़दीम क़ुतुब शाही मस्जिद महेशवरम रोड पर एक बाग़ में है । मेन रोड पर मुकम्मल झाड़ीयों में छिपा दी गई है । अल्हम्दुलिल्ला इस के बावजूद हर आने जाने वाले मुस्लमानों से आँख से आँख मिला कर सवाल

क़दीम क़ुतुब शाही मस्जिद महेशवरम गैर आबाद क़दीम क़ुतुब शाही मस्जिद महेशवरम रोड पर एक बाग़ में है । मेन रोड पर मुकम्मल झाड़ीयों में छिपा दी गई है । अल्हम्दुलिल्ला इस के बावजूद हर आने जाने वाले मुस्लमानों से आँख से आँख मिला कर सवाल करती है मुझे भूल गए तुम को जिस ने पैदा किया और तुम जिस की तरफ़ हमेशा हमेशा के लिये पलट कर जाउ गे में इसी मालिक हक़ीक़ी अल्लाह पाक का घर हूँ ।

लेकिन वीरान गैर आबाद हूँ । मस्जिद के करीब एक मदरसा भी है । मस्जिद के सामने एक बोर्ड पर दर्ज है । महेशवरम 7 केलो मीटर है । वक़्फ़ गज़्ट में दर्ज है तारीख 16-2-1989 गज़्ट नंबर 7-A ।।

TOPPOPULARRECENT