Monday , December 11 2017

मुस्लमान, अमेरीका का लाज़िमी हिस्सा:ओबामा

क्लीवलैंड 23 जुलाई: अमेरीकी सदर बारक ओबामा ने रिपब्लिकन क़ाइदीन पर अमेरीकी मुसलमानों को ख़ुसूसी तौर पर निशाना बनाने पर ज़बरदस्त तन्क़ीद की और कहा कि मुस्लमान हर दौर में अमेरीका का हिस्सा रहे हैं। उन्हें यकावतनहा नहीं किया जा सकता और उन्हें (मुसलमानों) इस बात का अंदेशा हैके मुट्ठी भर जुनूनीयों के ज़रीये अंजाम दी जाने वाली दहश्त गिरदाना कार्यवाईयों का इल्ज़ाम कहीं उनके सर ना लग जाये जो इन जुनूनीयों के तर्ज़ फ़िक्र से हरगिज़ मुत्तफ़िक़ नहीं। वाईट हाऊस में ईद मिलाप की एक तक़रीब से ख़िताब करते हुए उन्होंने कहा कि जिस तरह तमाम अमेरीकी शहरीयों को दहश्तगर्दी से ख़तरात लाहक़ हैं उनमें अमेरीकी मुस्लमान भी शामिल हैं।

मुसलमानों को इस वक़्त सबसे बड़ी फ़िक्र ये हैके कहीं इस्लाम से वाबस्ता चंद मुट्ठी भर जुनूनीयों की हरकत से पूरी इस्लामी बिरादरी को बदनाम किया जा रहा है। अलक़ायदा और दौलत इस्लामीया जैसी दहश्तगर्द तंज़ीमें दरअसल मग़रिब के ख़िलाफ़ जंग नहीं कर रही हैं बल्केये जंग उन्होंने मुस्लमान क़ौम पर थोप दी है जिन्हें दुनिया के हर मुल्क में शुबा की नज़र से देखा जा रहा है जबकि इस्लाम के पैरोकारों की तादाद अरबों में है और लाज़िमी बात हैके किसी भी फ़िर्क़ा या मज़हब के तमाम पैरोकार बैयकवक़त दहश्तगर्द नहीं बन सकते

TOPPOPULARRECENT