Monday , December 18 2017

मुस्लिम कारकुन का रोज़ा तुड़वाने का तनाज़ा , हुकूमत का आज जवाब

हुकूमत ने आज कहा कि वो शिवसेना अरकान-ए‍-पार्लियमेंट की जानिब से रोज़ेदार मुस्लिम कारकुन को ज़बरदस्ती खिलाने के मसले पर कल जवाब देगी क्योंकि कल तक उसे मुकम्मल हक़ायक़ की तौसीक़ हासिल होजाएगी। कांग्रेस, समाजवादी पार्टी और बाएं बाज़ू की

हुकूमत ने आज कहा कि वो शिवसेना अरकान-ए‍-पार्लियमेंट की जानिब से रोज़ेदार मुस्लिम कारकुन को ज़बरदस्ती खिलाने के मसले पर कल जवाब देगी क्योंकि कल तक उसे मुकम्मल हक़ायक़ की तौसीक़ हासिल होजाएगी। कांग्रेस, समाजवादी पार्टी और बाएं बाज़ू की पार्टीयों के अरकान ने ये मसला राज्य सभा में आज का इजलास शुरू होते ही उठाते हुए कहा कि ये तनाज़ा पैदा हुए 24 घंटे होचुके हैं। क़ब्लअज़ीं उसे उठाया गया था। लेकिन हुकूमत हुनूज़ इस का जवाब देने से क़ासिर है।

मर्कज़ी वज़ीर-ए‍-पार्लिमानी उमोर एम वेकैंया नायडू ने कहा था कि ये वाक़िया रुकन पार्लियमेंट से ताल्लुक़ रखता है जो एक ऐसी इमारत में हुआ है जो रियासती हुकूमत के ज़ेर-ए‍-इंतेज़ाम है। उन्होंने कहा था कि ये एक इंतिहाई हस्सास माम‌ला है। साथ ही साथ संगीन मामला भी है। उन्होंने कहा कि सदर नशीन ने कल वज़ीर-ए-ममलकत बराए पार्लिमानी उमोर को हिदायत दी थी कि हक़ायक़ के बारे में यक़ीनी मालूमात हासिल की जाएं।

उन्होंने कहा कि हम हक़ायक़ की तौसीक़ कररहे हैं। हमें मुकम्मल तफ़सीलात हासिल होने के बाद ही हम कोई जवाब दे सकेंगे। अपोज़िशन अरकान ने शोर-ओ-गुल मचाते हुए कहा कि हुकूमत इस मामले पर ख़ामोश होने पर मजबूर होगई है। सी पी आई (एम) के सीताराम यचोरी ने कहा कि हुकूमत 24 घंटे गुज़रने के बाद भी जवाब देने से क़ासिर है।

हालाँकि इस ने तैक़ून दिया था कि ऐवान पार्लियमेंट में इस मसले पर बयान दिया जाएगा। कांग्रेस के सत्य व्रत चतुर्वेदी ने कहा कि हुकूमत बहरी और गूंगी होचुकी है। वेकैंया नायडू ने कहा कि चूँकि ये मामला अरकान-ए‍-पार्लियमेंट से ताल्लुक़ रखता है और रियासती हुकूमत के ज़ेर-ए‍-इंतेज़ाम एक इदारा का है इस लिए मुकम्मल तफ़सीलात की तसदीक़ ज़रूरी है।

कल तक हम इस मसले पर बयान दे सकेंगे। एवान के इजलास का आग़ाज़ होते ही अपोज़िशन अरकान उठ कर खड़े होगए और मसला उठाने लगे। सदर नशीन हामिद अंसारी ने कहा कि आज की तर्जीहात बजट पर मुबाहिस हैं। हम उसे मुकम्मल नहीं करसके (ख़ललअंदाज़ी की वजह से) हमारे पास सिर्फ़ सात घंटे बाक़ी हैं। लेकिन हमें वकफ़ा-ए-सवालात भी मुनाक़िद करना है। उन्हों ने कहा कि सुबह के इजलास में इस मसले पर तबादला-ए-ख़्याल होचुका है और फ़ैसला किया गया था कि आम बजट पर 12 बजे से बेहस शुरू करदी जाएगी।

कांग्रेस के आनंद शर्मा ने कहा कि ये एक संगीन मसला है और हुकूमत को बयान देना चाहिए। यचोरी ने कहा कि आख़िर हुकूमत हक़ायक़ की तसदीक़ कब करेगी। वेकैंया नायडू के इस बयान के बाद कि हुकूमत इस मसले पर कल बयान देगी, चतुर्वेदी ने तबसरा किया कि हुकूमत इस मसले पर बयान दे सकती है लेकिन कल 6 बजे शाम से पहले ऐसा किया जाना चाहिए। शिवसेना के 11 अरकान-ए‍-पार्लियमेंट जो वाज़िह तौर पर महाराष्ट्रियन ग़िज़ा सरबराह ना करने पर बरहम होगए थे, मुबय्यना तौर पर एक मुस्लिम मुलाज़िम को जो रोज़ेदार था, चपाती खाने पर मजबूर कररहे थे। ये वाक़िया गुज़िश्ता हफ़्ता न्यू महाराष्ट्रा सदन नई दिल्ली में पेश आया था।

TOPPOPULARRECENT