मुस्लिम कैदियों को लेकर चीन पर बैन लगा सकता है अमेरिका !

मुस्लिम कैदियों को लेकर चीन पर बैन लगा सकता है अमेरिका !

चीन के कुछ हिस्सों में मानवाधिकारों की बिगड़ती स्थिति के बारे में चिंता जताते हुए अमेरिका ने कहा कि वह इसके लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ लक्षित उपाय करने पर विचार कर रहा है। अमेरिका ने इस मुद्दे पर चीन पर प्रतिबंध लगाने के भी संकेत दिए हैं।

मानवाधिकारों पर अमेरिका द्वारा जारी सालाना रिपोर्ट के मुताबिक, चीन के शिनजियांग में दस लाख से अधिक धार्मिक अल्पसंख्यकों को कथित रूप से हिरासत में रखा गया है। वही देश के पश्चिमोत्तर क्षेत्र में रहने वाले उइगर मुसलमानों को भी बड़ी संख्या में आतंकवाद निरोधक लड़ाई की आड़ में गिरफ्तार कर रखा है।

मुसलमानों को रिहा कराने को प्रतिबद्ध

विदेश विभाग के उप प्रवक्ता रॉबर्ट पैलाडिनो ने कहा कि हम चीन से इन नीतियों को खत्म करने और मनमाने ढंग से गिरफ्तार किए गए मुसलमानों को रिहा करने का दबाव बनाते रहेंगे। हम मुसलमानों के मानवाधिकारों का उल्लंघन करने वालों को जिम्मेदार ठहराने के लिए प्रतिबद्ध हैं और उनके खिलाफ प्रतिबंध लगाने पर विचार कर रहे हैं। अमेरिका इस मामले पर संयुक्त राष्ट्र के साथ-साथ उसके मानवाधिकार उच्चायुक्त के साथ बात कर इस मामले को प्रमुखता से उठाने की कोशिश करेगा।

बता दें कि चीन ने पूरे शिनजियांग क्षेत्र से 10 लाख से ज्यादा तुर्की मुस्लिमों को राजनीतिक शिक्षा देने के नाम पर कथित तौर पर गिरफ्तार कर रखा है। वहीं चीन ने अपने ऊपर लगे इन सभी आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए अमेरिका के बयान की आलोचना की है।

Top Stories