Wednesday , June 20 2018

मुस्लिम तंज़ीम ने मोहन भागवत की तस्वीर को आग के हवाले कर किया एहतिजाज

रिट जद्दो ज़हद फरंट (Writ struggle Front) की कियादत में मुस्लिम तंज़ीमो और दिगर कई समाजी तंज़ीमो ने शहर के मुख्तलिफ इलाकों में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की चीफ मोहन भागवत की तस्वीर जलाकर एहतिजाजी मुज़ाहिरा किया.

रिट जद्दो ज़हद फरंट (Writ struggle Front) की कियादत में मुस्लिम तंज़ीमो और दिगर कई समाजी तंज़ीमो ने शहर के मुख्तलिफ इलाकों में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की चीफ मोहन भागवत की तस्वीर जलाकर एहतिजाजी मुज़ाहिरा किया. भागवत के बयानों से मजरूह हुए लोगों ने पूरे शहर में मोहन भागवत की तस्वीर और पुतले जलाए.

इन्होंने इल्ज़ाम लगाया कि आरएसएस अक्लियतों के बीच दहशत फैलाकर हिंदुस्तान की सेक्युलर शबिया को तोड़ने का मिशन चला रहा है और यह मुल्क की यकजहती के लिए बहुत बड़ा खतरा है. एहतिजाजी मुज़ाहिरा में शामिल स्मार्ट पार्टी के सदर शहजादे मंसूर अहमद ने कहा कि मोहन भागवत घूम-घूमकर भड़काऊ बयान देते फिर रहे हैं और मरकज़ी हुकूमत सब कुछ जानते हुए भी अनजान बनने की कोशिश कर रही है.

उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी की हुकूमत तरक्की की बात कर और सफाई मुहिम का महज तश्हीर कर हिंदू तंज़ीमो की इन कारिस्तानियों से लोगों का ध्यान बंटा रही है. उन्होंने कहा कि भागवत कहते हैं कि हिंदू नौजवानों के बूढ़ा होने से पहले हिंदुस्तान हिंदू मुल्क ऐलान हो जाएगा, मगर ऐसा कभी नहीं हो सकता. अगर ऐसा होना रहता तो 1947 में ही हो गया रहता |

मंसूर अहमद ने कहा कि ऐसे बयान देकर संघ के सरबराह लोगों को भड़काकर आपस में लड़वाना चाहते हैं और पुख्ता हिंदू वोटबैंक तैयार कर इसका फायदा भाजपा को उन रियासतों में दिलाना चाहते हैं, जहां-जहां अब इलेक्शन होना है, ताकि उनके लोग मरकज़ से लेकर रियासत के इक्तेदार में रहें.

सोशलिस्ट फ्रंट ऑफ इंडिया के सदर मोहम्मद आफाक ने कहा कि मोहन भागवत, योगी आदित्यनाथ, साध्वी निरंजन ज्योति, प्रज्ञा ठाकुर, प्रवीण तोगड़िया, अशोक सिंहल, वेंकैया नायडू, साक्षी महाराज और न जाने ऐसे ही कितने लीडर हिंदुस्तान के बारे में कैसी सोच रखते हैं, यह जनता से छिपा नहीं है. उन्होंने कहा कि इनमें से कई जिम्मेदारी वाले ओहदो पर हैं, लेकिन आईन की सरेआम धज्जियां उड़ा रहे हैं और वज़ीर ए आज़म नरेंद्र मोदी खामोश तमाशाई बने हुए हैं. पार्लियामेंट में बयान देने के लिए उनके पास लफ्ज़ शब्द ही नहीं हैं |

आफाक ने कहा कि तरक्की के नाम पर वोट देने वाली जनता को यह नहीं मालूम था कि मोदी की हुकूमत बनते ही आरएसएस और दूसरे हिंदूवादी तंज़ीमो के हौसले इतने बुलंद हो जाएंगे कि वे लव जिहाद, जबरन मज़हब की तब्दीली कराकर मुल्क का माहौल खराब करते रहेंगे, ताकि इस मुल्क में अक्लियती हमेशा डरा हुआ रहे. उन्होंने कहा कि भाजपा ने मुल्क की जनता के साथ छल किया है.

TOPPOPULARRECENT