मुस्लिम तहफ़्फुज़ात(सुरक्षा) का फ़ैसला मुसबत(अच्छे) होने की तवक़्क़ो(उम्मीद)

मुस्लिम तहफ़्फुज़ात(सुरक्षा) का फ़ैसला मुसबत(अच्छे) होने की तवक़्क़ो(उम्मीद)

मर्कज़ी वज़ीर-ए-क़लीयती(अल्पसंख्यक) उमूर-ओ-क़ानून(कानून मंत्री) मिस्टर सलमान ख़ुरशीद ने कहा कि अक़ल्लीयतों से मुताल्लिक़ 4.5 फ़ीसद मर्कज़ी तहफ़्फुज़ात का मसला सुप्रीम कोर्ट के दस्तूरी बंच से रुजू होचुका है और हमें यक़ीन है ।फ़ैसला अक़ल्लीयतों और मर्कज़ी हुकूमत के हक़ में होगा ।

आज गांधी भवन में प्रैस कान्फ़्रैंस से ख़िताब करते हुए मिस्टर सलमान होरीशद ने आंधरा प्रदेश की कांग्रेस हुकूमत ने मुस्लमानों को 4 फ़ीसद तहफ़्फुज़ात फ़राहम किए हैं । मुस्लिम तहफ़्फुज़ात की फ़राहमी में अहम रोल अदा करने वाले मिस्टर मुहम्मद अली शब्बीर भी इस वक़्त हमारे साथ है ।

आंधरा प्रदेश के 7 जजस पर मुश्तमिल बंच ने मुस्लिम तहफ़्फुज़ात को कुलअदम क़रार दिया था । ताहम आंधरा प्रदेश की हुकूमत ने सुप्रीम कोर्ट से रुजू होते हुए हाईकोर्ट के फ़ैसले पर हुक्म अलतवा हासिल किया है और रियासत में 4 फ़ीसद मुस्लिम तहफ़्फुज़ात पर अमल आवरी जारी है ।

मर्कज़ी हुकूमत ने तमाम क़ानूनी-ओ-दस्तूरी पहलूओं का जायज़ा लेने के बाद अक़ल्लीयतों को 4.5 फ़ीसद ज़ेली कोटा तहफ़्फुज़ात तिफरा हम करने का फ़ैसला किया है । हमारा मौक़िफ़ मुस्तहकम है आंधरा प्रदेश हाईकोर्ट ने इस को कुलअदम क़रार दिया है । मर्कज़ी हुकूमत सुप्रीम कोर्ट से रुजू हुई थी ताहम राहत ना मिल सकी मसला अब दस्तूरी बंच से रुजू होचुका है । हमें यक़ीन है फ़ैसला मर्कज़ी हुकूमत और अक़ल्लीयतों के हक़ में होगा ।

Top Stories