Thursday , July 19 2018

मुस्लिम नुमाइंदों की बेइज्जती नाकाबिले बर्दाश्त : झारखंड ओलमा कोनसिल

झारखंड ओलमा कोनसिल के मर्कज़ी जेनरल सेक्रेटरी मौलाना कुतूबूद्दीन रिजवी, नायब सदर मुफ़्ती शहीदुर्रहमान मिसबाही और जोइंट सेक्रेटरी मौलाना अब्दुर्राशीद अज़ीज़ी ने गुजिशता कल रियासती कॉंग्रेस कमेटी की नाशिस्त में दो सीनियर लीडर सा

झारखंड ओलमा कोनसिल के मर्कज़ी जेनरल सेक्रेटरी मौलाना कुतूबूद्दीन रिजवी, नायब सदर मुफ़्ती शहीदुर्रहमान मिसबाही और जोइंट सेक्रेटरी मौलाना अब्दुर्राशीद अज़ीज़ी ने गुजिशता कल रियासती कॉंग्रेस कमेटी की नाशिस्त में दो सीनियर लीडर साबिक़ एमपी और गोड्डा लोक सभा काँग्रेस के उम्मीदवार फुरकान अंसारी और रियासती नायब सदर डॉक्टर गुल्फाम मुजीबी को टार्गेट करके कोंग्रेसी ओहदेदारों के जरिये बेइज़्ज़त और रुसवा करने की कोशिश की सख्त मज़मत करते हुये कहा है के ये अमल निहायत काबीले अफसोस है के कोंग्रेसी की कश्ती भवर में जब-जब फँसती है तो मुसलमान ही इस मुसीबत की घड़ी में साथ देते हैं और काँग्रेस को तकवियत पहुंचाते हैं मगर उन्हें मुसलमानों की नुमाइंदों को काँग्रेस के कुछ संघी ओहदेदारान बर्दाश्त नहीं कर पा रहे हैं। जब के सच्चाई यही है के इस बार लोक सभा इंतिख़ाबात में 80-85 फीसद मुसलमानों ने दी खोल कर काँग्रेस या उनके इत्तिहाद को साथ दिया। बावजूद ये के मुस्लिम लीडरों पर इस तरह के नाज़ेबा सुलूक पार्टी की नशस्त में पार्टी के ओहदेदारों के जरिये किया गया जो नाकाबिले बर्दाश्त है।

झारखंड ओलमा कोनसिल ने कहा है के काँग्रेस को ये नहीं भूलना चाहिए के अनकरीब रियासती एसेम्बली का इंतिख़ाब है ज़रूरत पड़ने पर सही वक़्त में मुसलमान जवाब देना भी जानते हैं। मौलाना क़ुतुबुद्दीन रिजवी ने कहा के इस सिलसिले में आज कॉंग्रेस रियासती सदर मिस्टर सुखदेव भगत से बात करके सख्त एहतेजाज करते हुये उन ओहदेदारों पर कारवाई कने की मांग की है। जिन कोंग्रेसी ओहदेदारों ने पार्टी की नशस्त में मुस्लिम लीडरों पर ताना ज़नी की और बेइज़्ज़त करने की कोशिश की।

TOPPOPULARRECENT