Monday , December 18 2017

मुस्लिम बोडो तसादुमपनाह गज़ीन फ़रार होने पर मजबूर

नई दिल्ली, १७ नवंबर ( पीटीआई) मर्कज़ ने हुकूमत आसाम को कोकराझार में ताज़ा तरीन तशद्दुद के पेश नितर सख़्त चौकसी इख्तेयार करने की हिदायत की है और कहा है कि बोडोस और मुस्लिम मुहाजिरीन के दरमयान तसादुम को रोकने के लिए गै़रक़ानूनी अस्लाह

नई दिल्ली, १७ नवंबर ( पीटीआई) मर्कज़ ने हुकूमत आसाम को कोकराझार में ताज़ा तरीन तशद्दुद के पेश नितर सख़्त चौकसी इख्तेयार करने की हिदायत की है और कहा है कि बोडोस और मुस्लिम मुहाजिरीन के दरमयान तसादुम को रोकने के लिए गै़रक़ानूनी अस्लाह ज़ब्त कर लिए जाएं ।

मर्कज़ी वज़ारत-ए-दाख़िला ने वुज़राए दिफ़ा ने कहा है कि मामूल के हालात बहाल करने के लिए मुक़ामी सियोल इंतिज़ामीया की इआनत के लिए फ़ौजी कुमक ( मदद) पहूंचाई जाए । मर्कज़ ने अपने मुशावरती नोट में कहा है कि पुलिस नियम फ़ौजी दस्तों और फ़ौजी ओहदेदारों को सख़्त तरीन चौकसी इख्तेयार करना चाहीए और अमन बरक़रार रखने केलिए तशद्दुद से मुतास्सिरा इलाक़ों में सिक्योरिटी फोर्सेस की भारी जमईयत तैनान की जाए ।

मर्कज़ी-ओ-रियास्ती इंटेलीजेंस इदारों को किसी गड़बड़ के बारे में क़बल अज़ वक़्त ज़रूरी मालूमात हासिल हो जाए । मालूमात मौसूल ( मिलने/ प्राप्त) होने पर क़ानून नाफ़िज़ करने वाले इदारों को बरवक़्त आगाह कर दिया जाए। मर्कज़ी वज़ारत-ए-दाख़िला ने हुकूमत आसाम को मश्वरा दिया है कि मुतहारिब ग्रुपों के क़बज़ा में मौजूद अस्लाह को ज़ब्त करने के लिए गै़रक़ानूनी अस्लाह की ज़ब्ती के लिए ख़ुसूसी मुहिम चलाई जाए ।

वाज़िह रहे कि कोकराझार में गुज़शता रोज़ बाअज़ मुस्लिम अफ़राद की जानिब से एक शख़्स को गोली मार कर हलाक कर देने और दूसरे को ज़ख्मी किए जाने के बाद ग़ैर मुअय्यना मुद्दत का कर्फ़यू नाफ़िज़ कर दिया गया था ।

TOPPOPULARRECENT