Tuesday , August 14 2018

मुहम्मद मुर्सी के 22 हामीयों को फांसी का हुक्म

मिस्र के साबिक़ सदर मुहम्मद मुर्सी के 22 हामीयों को फांसी की सज़ा का हुक्म दे दिया गया, मदा आलिहान का कहना है कि मिस्र में साबिक़ा हुकूमत के हामीयों को दी जाने वाली सज़ाओं के बारे में मुफ़्तीए आज़म मिस्र से बाक़ायदा फ़तवा भी लिया जाएगा

मिस्र के साबिक़ सदर मुहम्मद मुर्सी के 22 हामीयों को फांसी की सज़ा का हुक्म दे दिया गया, मदा आलिहान का कहना है कि मिस्र में साबिक़ा हुकूमत के हामीयों को दी जाने वाली सज़ाओं के बारे में मुफ़्तीए आज़म मिस्र से बाक़ायदा फ़तवा भी लिया जाएगा।

मुल्ज़िमान सज़ा के ख़िलाफ़ अपील कर सकते हैं लेकिन अगर आला अदलिया ने उन की सज़ा को बरक़रार रखा और फ़तवा भी उन के हक़ में नहीं आया तो उन्हें 20 या 21 अप्रैल को फांसी दे दी जाएगी। इन अफ़राद पर 2013 में पुलिस स्टेशन पर हमला और पुलिस अफ़्सर के क़त्ल का इल्ज़ाम है।

इख़्वान हुकूमत के ख़ात्मा के बाद से अब तक मुर्सी के 14 सौ हामीयों को हलाक , सैंकड़ों को सज़ाए मौत का हुक्म और हज़ारों को क़ैद किया जा चुका है। तफ़सीलात के मुताबिक़ मिस्र के साबिक़ सदर मुहम्मद मुर्सी के 22 हामीयों को फांसी की सज़ा का हुक्म दे दिया गया, इस्तिग़ासा के मुताबिक़ मदा आलिहान ने 3 जुलाई 2013 को क़ाहिरा के नवाह में वाक़े क़स्बा करादुस्सह में पुलिस स्टेशन पर हमला किया था जिस में एक पुलिस अफ़्सर मारा गया था।

अगर आला अदालत ने उन की सज़ाओं को बरक़रार रखा तो फिर उन से मुताल्लिक़ फ़ैसले को तौसीक़ के लिए मुफ़्तीए आज़म मिस्र के पास भेजा जाएगा और अगर उन्हों ने भी फ़ैसला को बरक़रार रखा तो फिर फांसी पर अमल दरामद कर दिया जाएगा।

TOPPOPULARRECENT