Saturday , January 20 2018

मुहम्मद हफ़ीज़ ने मिसबाह-उल-हक़ से इख़तिलाफ़ात की तरदीद की

जोहांसबर्ग 14 मार्च : पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के सीनयर बैटस्मेन और टी 20 के कप्तान मुहम्मद हफ़ीज़ ने पाकिस्तानी मीडया को मश्वरा दिया है कि वो ज़िम्मा दाराना रिपोर्टिंग करे और ब्रेकिंग न्यूज़ की कोशिश में टीम में इंतिशार पैदा करने से गुरेज़ किया जाय।

मिसबाह-उल-हक़ से मेरे ताल्लुक़ात में तनाव नहीं है और ना ही इख़तिलाफ़ात हैं । ख़ुसूसी इंटरव्यू देते हुए उन्होंने कहा कि कोई खिलाड़ी चालाकियों से कप्तान नहीं बन सकता । इज़्ज़त और ज़िल्लत अल्लाह के हाथ में है । अगर अल्लाह ताला ने मेरी क़िस्मत में इज़्ज़त लिखी है तो ज़रूर मिलेगी ।

मैंने ना साज़िश की और ना आइन्दा साज़िश के ज़रिया ये मुक़ाम हासिल करूंगा । पाकिस्तान में मेरी वालिदा, वालिद, बीवी और दीगर ख़ानदान के अफ़राद इस किस्म की ख़बरें सुन कर परेशान होजाते हैं । में और मिसबाह-उल-हक़ अच्छे दोस्त हैं । मुझे समझ में नहीं आरहा कि वो कौन लोग हैं जो ग़लत ख़बरों को हआ देते हैं ?

मिसबाह-उल-हक़ से सिर्फ़ इस लिए लडुंगा कि मुझे वन डाउन पर भेजा जा रहा है । मैंने हमेशा पाकिस्तान टीम के लिए सद फ़ीसद कारकर्दगी दिखाई है और आइन्दा भी मुल्क के लिए अच्छा खेलना चाहता हूँ । मेरी पाकिस्तानी मीडया से दरख़ास्त है कि वो गै़रज़रूरी ख़बरें फैलाकर टीम का माहौल मुंतशिर ना करे ।

मेरी और मिसबाह-उल-हक़ की दोस्ती वैसी ही है, जैसी पहले थी । इख़तिलाफ़ात की ख़बरों में कोई सच्चाई नहीं है । याद रहे कि जनूबी अफ्रीका के ख़िलाफ़ पहले वन्डे के आग़ाज़ के क़बल ही पाकिस्तानी वन्डे टीम के कप्तान मिसबाह-उल-हक़ और मुहम्मद हफ़ीज़ के इख़तिलाफ़ात की खबरें मंज़रे आम पर आई थीं जिस में ना सिर्फ़ कप्तान और नायब कप्तान बल्कि टीम के इंतिख़ाब के ज़िमन में कोच वाटमोर का नाम भी लिया गया था और कहा गया था कि पाकिस्तानी टीम में इख़तिलाफ़ात पैदा होने लगे हैं ।

TOPPOPULARRECENT